#धर्म और ज्योतिषी

मनोज कुमार यादव Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए मनोज कुमार यादव जी का जवाब
किसान हूं 🌾🌾🌾🌾
1:10
नमस्कार मित्रों जैसे आपका प्रश्न है क्या इस दुनिया में भगवान होते हैं या नहीं तो देखिए मित्रों भगवान पर आप विश्वास करते हैं तो भगवान होते हैं अगर आप भगवान पर विश्वास ही नहीं करते हैं तो आपके लिए भगवान नहीं होता क्योंकि जो लोग विश्वास ही नहीं करते भगवान पर उसके लिए तो भगवान है ही नहीं और अगर आप भगवान की बात कर रहे हैं तो भगवान नगर नहीं है तो दिन रात सुबह शाम यह सब कैसे होता है हवा पानी जैसा हो मैं कहां से मिलते हैं यह सभी भगवान का निशानी है अगर भगवान नहीं है तो हमें रात को और दिन को देखने को कैसे मिलता है यह तो सामान भी हो सकता है लेकिन भगवान है भगवान पर विश्वास करिए आप अगर भगवान को मानते हैं तो कहीं पर भी आपके साथ भी भगवान है आपके कान कान में भी भगवान है आपके अंदर आत्मा में भी भगवान है आप स्वयं सोचिए तो एक भगवान है इसलिए करके भगवान को आप पूछते हैं मानते हैं तो आपके लिए सब जगह भगवान धन्यवाद

और जवाब सुनें

umashankar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए umashankar जी का जवाब
Unknown
2:31
आपका सवाल है क्या इस दुनिया में भगवान होते हैं या नहीं मैं बता दो मेरे ख्याल से भगवान का अस्तित्व इस दुनिया में नहीं है क्यों नहीं है इसका मतलब यह है कि पहले जो बुजुर्ग थे मारे वह हमको बताते थे कि भगवान को तपस्या करके लोग प्रकट कर लेते थे भगवान लोगों की मदद करने के लिए आ जाते थे तो यह सब चीजें कहां गई जिसे हमें कुछ चीजें विरासत में मिलते चली आ रही है हम उसी को उसी ढर्रे पर चलते चले आ रहे हैं जिससे हमारा समाज बना हुआ है पाली पुरखों के जमाने से वह समाज हमारा ददरेवा से चला आ रहा है वह सब चीजें बनी है वह सुबह से चली आ रही हैं तो अगर भगवान उस समय होते तो उनको प्रगट करने का तरीका हमें क्यों नहीं मालूम है हमको कट क्यों नहीं कर सकते जब हमारे पूर्वज कर सकते थे तो हम क्यों नहीं कर सकते आज एक दिन दुखी को मदद करने के लिए भगवान क्यों नहीं आते आगे भगवान का आरती है तुमको सामने आना चाहिए किसी न किसी रूप में लेकिन वह कभी नहीं आते आप सर पटक कर के मर जाओगे मंदिर में लेकिन भगवान प्रकट नहीं होने वाले हैं मैं कैसे मान लूं कि भगवान पर रखने वाले एप्पल बड़े भगवान जी कहीं स्थित अस्तित्व है इसी से हमारे हिसाब से तो भगवान का अस्तित्व नहीं है आप लोग भाई भगवान पर विश्वास रखते हैं अच्छी बात है आप लोग हम किसी के विरोधी नहीं है नया मिस का विरोध करते हैं आज इसका मैं जहां तक ख्याल है जहां तक सोच है जहां तक जानकारी है वहां तक आदमी मानेगा जाने का हमारे कहने से कुछ होने वाला नहीं है वैसे हम जहां तक मानते हैं कि भगवान का चित्र कहीं नहीं है पहले लोग भगवान से को क्या कहते हैं वरदान मांगते थे एक तीर चलाते थे धनुष से हजारों लाखों तेल निकल जाते थे एक तीर से वह सब कहां गए विद्या विद्या उसे मिल जाए कहां गए वह सब मिल जाए तो हमारे पूर्वजों के माध्यम से हमें धीरे धीरे आना चाहिए हमारे साथ हो सब ग्रुप क्यों हो गए सब पर गौर करें और भाई अपने हिसाब से सोचे विचारे इसके लिए मैं कुछ कहूंगा नहीं

Ramvriksh Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Ramvriksh जी का जवाब
CivilEngineer
2:35
मित्रों नमस्कार मकर संक्रांति पर्व के उपलक्ष में समस्त परिजनों को कोई कोई बात की रोपाई वालों को सब को नमस्कार दोस्तों की क्या इस दुनिया में भगवान होते नहीं देखे कोई भी दुनिया हो बनाए तो भगवान के द्वारा ही निश्चित है क्योंकि इतनी बड़ी दुनिया है ना दिया है पहाड़ है सूर्य चंद्रमा पृथ्वी ग्रह अलावा जो नहीं देखे लोग हैं जितनी चीजें हम देख रहे हैं और जो नहीं देख रहे हैं सब तेरी बड़ी श्रृंखला इतनी बड़ी व्यवस्था का संचालन कोई न कोई शक्ति तो जरूर करती है उसको हम भगवान कर सकते हैं काट कर सकते हैं खुदा कर सकते हैं ईश्वर कर सकते हैं किसी भी नाम से अधिकार का सत्यानाश कर सकते हैं अल्लाह ताला तो वह किसी भी नाम से बुला सकते हैं तो यह ईश्वर तो है निश्चित है अब यह बात अलग है कि हमारी मान्यता है और हमारी जो हंसता है पर निर्भर करता है वास्ता ही आपको ईश्वर बनाती है या नहीं बनाने के को कहती है यदि आस्था है आपकी सुन में कितना बड़ा अगर दुनिया बनाया है तो इसने बनाया आदमी के बस का तो कुछ है ही नहीं देना है रात है जान माय मैं मौत है तो जन्म तो आप दे सकते हैं बच्चे को आदमी दे सकता लेकिन मौत नहीं दे सकता यह सारी सारी चीजें जो आप देख इससे प्रतीत होता है कि इससे सिद्ध होता है कि भगवान है और सृष्टि का संचालन भाई फिर भी लोग नास्तिक नहीं मानते हैं तो हर चीज की दवा ले ली है कोई चीजें लाइलाज भी है ऐसे एड्स कैंसर है लाइलाज है तो उसी तरह से आदमी की बुद्धि भी लाइलाज है सब जरूरी नहीं है सब बातें मानी सब आपकी बात पर भगवान होते हैं कि नहीं होते आपके आज तक निर्भर करता है कि आपको मेरा जवाब पसंद आए मित्रों को लाइक और सब्सक्राइब जरूर करिएगा धन्यवाद

Dukh kaise mite Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Dukh kaise mite जी का जवाब
Unknown
2:58
कृष्णा आपने पूछा क्या दुनिया में भगवान होते हैं बिल्कुल होते हैं हरे कृष्ण हरे कृष्ण हरे कृष्ण हरे कृष्ण ईश्वर को या कश्मीर को एक ही बात है जो आप कई लोग भगवान को निराकाल मानते तो भगवान निरंकारी बने रहते हैं और साकार मानते तो उनके लिए सागर बंध 13 जून की भक्ति करते हैं मासी सारी ब्रिज श्री पालन करते हैं दो संतान के बाद तो भगवान बहुत प्रसन्न होते हैं और जो शादीशुदा नहीं है इनको शादी करने की इच्छा है वह बड़े कर ले लेकिन वह संतान बाद मासिक सारी ब्रह्मचर्य पालन करते हैं और पवित्र विचार रखते हैं भक्ति करते हैं तो इस वजह से जुड़ जाते हैं उतनी करने लगता है कि कौन किस की योग्यता है आप जैसे योग्यता प्राप्त करते तो विश्व संपर्क कर जाते हैं हरे कृष्ण हरे कृष्ण को आजकल पूरे संसार में कई लोग वाकई में पढ़ने को मिलता है कि रात को नींद नहीं आती ठीक से नहीं आती श्री हत्या करने की इच्छा हो रही है वह बोलता आत्महत्या वास्तु आत्महत्या नहीं होती शरीर की हत्या होती है तो वह कितना दुखी हो जाते हैं तो मैं इस प्रश्न के माध्यम से मैं बताना चाहता हूं कोई भी मनुष्य टेंशन में हो किसी तरह दुख हो तो आप ईश्वर की भक्ति कीजिए इस लोक और कृष्ण को एक ही बात है अगर आप को ईस्ट की भक्ति करते हैं जैसे महादेव जी हनुमान जी देवी जी की तो एक ही भक्ति आप चालू रखें दूसरों का धनुष पढ़ने के समय मांग ले वह कुछ समय के लिए हरे कृष्ण हरे कृष्ण हरे कृष्ण हरे कृष्ण तो एडवांस में मिल जाएगा और सही हत्या स्कूल करनी नहीं चाहिए हरे कृष्ण हरे कृष्ण हरे कृष्ण मैंने काफी ऑडियो अपलोड किए हैं वह खुद पर दुख कैसे मीठी यह आप खोलें तो वे काफी ऑडियो से मर जाएंगे हॉस्टल से हटते ही मर जाएगा और आगे से आगे ज्ञान का शेयर करते रहें ताकि कोई भी आदमी दुखा है तो तुम दो को भगवान की तरफ जोड़ दें हरे कृष्ण हरे कृष्ण भगवान का ध्यान करते हैं उनका नाम लेते हैं तो हमारी आत्मा तक कि उनके पास पहुंच जाती है जैसे पहुंचती है तो हम आपको जानते थे और किस रितेश मिटा देते हैं और एक कष्ट है और एक जैसे हमें यहां भारत में बैठे हैं और अमेरिका का फोन लगाते तो फोन लग जाता है तो कहने का तात्पर्य उसकी तरंगे दिखता नहीं है लेकिन जाती ना इसी तरह हमारे हाथ में उतरेंगे भाग जाती है

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

#पढ़ाई लिखाई

Vikas Sharma  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Vikas Sharma जी का जवाब
No
0:43

#स्वास्थ्य और योग

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Archana Mishra जी का जवाब
Housewife
1:00
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है कीवी खाने के क्या फायदे होते हैं तो फ्रेंड्स की भी बहुत ही अच्छा फ्रूट होता है और यह सर्दियों में मिलने वाला फल होता है और इसमें बहुत सारे पोषक तत्व होते हैं बहुत सारे विटामिन होते हैं और इसमें विटामिन सी भी होता है कि भी मैं और की भी हमारे शरीर में खून में जो प्लेटलेट होते हैं उसे बहुत तेजी से बढ़ आता है जब भी किसी को डेंगू मलेरिया कोई बुखार हो जाता है और उसके प्लेटेड स्कर्ट जाते हैं तो अगर व्यक्ति भी खाए तो उसकी प्लेटलेट्स बहुत तेजी से बढ़ते हैं तो कीवी बहुत ही अच्छा फ्रूट होता है और भी बहुत की भरपूर गुणों का खजाना होता है उसमें तो आपकी भी खा सकते हैं आराम से दिन में एक या दो कि भी खाइए आपके फोन में जो प्लेटलेट्स तरह बढ़ेगा और आपकी ब्लड में बहुत ताकत आएगी तो फ्रेंड सब को जवाब अच्छे लगे तो लाइक कीजिएगा धन्यवाद

#स्वास्थ्य और योग

bolkar speakerसामाजिक स्वास्थ्य क्या है?
Brahma Prakash Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Brahma Prakash Mishra जी का जवाब
Asst. Teacher
1:28
नमस्कार मैं ब्रहम प्रकाश मिश्र आपका बोलकर पर हार्दिक स्वागत करता हूं आपका प्रश्न है सामाजिक स्वास्थ्य क्या है तो मित्र आधुनिक समाज अविश्वसनीय रूप से भूखी है और एक व्यक्ति कभी कभी उसे अस्तित्व की असुविधा जनक की स्थितियों और उनके लिए बातचीत के लिए अनुकूल बनाना मुश्किल पाता है और यह अन्य लोगों की मंडली में उनका अनुकूलन है जो यह निर्धारित करता है कि उनके सामाजिक स्वास्थ्य कितने शक्तिशाली हैं इस परिभाषा को स्पष्ट रूप से व्याख्या करना मुश्किल है पर इसे एक स्पष्ट पद देने के लिए इसमें क्योंकि कई घटक शामिल होते हैं और प्रत्येक व्यक्ति के लिए अलग-अलग कार को और परिस्थितियों का अनुकूलन हो सकता है सामाजिक अनुकूलन के मुख्य घटकों को समझने की कोशिश करने में हम जिन तत्वों को पाते हैं तो वे निकलकर यह आता है कि सामाजिक स्वास्थ्य एक व्यक्ति पूरे समाज या उसके व्यक्त समूह पर निर्भर करता है तो मित्र जय जवाब अच्छा लगा हो तो कृपया सब्सक्राइब लाइक शेयर और कमेंट करके जरूर बताएं धन्यवाद

#स्वास्थ्य और योग

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Archana Mishra जी का जवाब
Housewife
1:06

#टेक्नोलॉजी

Vikas Sharma  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Vikas Sharma जी का जवाब
No
1:00

#पढ़ाई लिखाई

Vikas Sharma  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Vikas Sharma जी का जवाब
No
0:44
सबको साले की इंग्लिश फिल्में एन का प्रयोग काका करते हैं दरअसल यह अपने आर्टिकल है यह आर्टिकल इन डिफरेंट आर्टिकल है और फ्रेंड्स एंड का शब्द सेंट्रल से पहले करते हैं मतलब एवं का एंकर पयोग भोपाल से चलकर थे जैसे सर आप को मैं बताता हूं अपने फ्रेंड्स एरोप्लेन एरोप्लेन फ्रेंड्स एंड एरोप्लेन इनके अनुसार एक ही आवाज आ रही है तो सेंड मतलब वह बोल मतलब जिन वर्ष में बल्कि सांड आती है उनसे पहले एंड को ब्लॉक किया जाता है फ्रेंड्स ठीक है अगर आपको अच्छा लगा हो तो प्लीज लाइक कर देना चाहे तो जय भारत

#स्वास्थ्य और योग

KamalKishorAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए KamalKishorAwasthi जी का जवाब
घर पर ही रहता हूं बैटरी बनाने का कार्य करता हूं और मोबाइल रिचार्ज इत्यादि
1:18

#स्वास्थ्य और योग

Brahma Prakash Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Brahma Prakash Mishra जी का जवाब
Asst. Teacher
3:11

#जीवन शैली

T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T P Singh जी का जवाब
Business
2:39

#स्वास्थ्य और योग

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Archana Mishra जी का जवाब
Housewife
1:02

#स्वास्थ्य और योग

bolkar speakerमुंह को साफ किस तरह से रखें?
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Archana Mishra जी का जवाब
Housewife
0:39

#स्वास्थ्य और योग

anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए anuj ji जी का जवाब
Unknown
0:33

#स्वास्थ्य और योग

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Archana Mishra जी का जवाब
Housewife
0:48

#पढ़ाई लिखाई

Brahma Prakash Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Brahma Prakash Mishra जी का जवाब
Asst. Teacher
1:42
नमस्कार मैं ब्रहम प्रकाश मिश्र आपका बोल करें पर हार्दिक स्वागत करता हूं आपका प्रश्न है अंग्रेजी शब्द में द का उपयोग कहां कहां होता है तो मित्र एक आर्टिकल होता है और द का इस्तेमाल किसी विशेष वस्तु व्यक्ति और स्थान के साथ किया जाता है जिसके बारे में हम पहले से ही जानते हो आजकल सभी सिंगुलर ओर प्लूरल के लिए समान होता है दा का प्रयोग यूनिक लोगों और वस्तुओं के साथ होता है जो केवल एक है या जो विशेषण पूरे एक समूह या जाति का बोध कराते हैं उनके साथ विदा का प्रयोग किया जाता है प्रसिद्ध संग्रहालय व भवनों और स्मारकों के साथ विदा का प्रयोग होता है नदियों समुद्रों महासागरों पहाड़ों जिलों नेहरु बांध मरुस्थल के नाम से पहले भी दा का प्रयोग करते हैं जैसे द गंगा इंडियन ओशन आदि और दा का प्रयोग धार्मिक अखबार पत्रिका के नाम से पहले भी होता है जैसे द गीता या इंडिया टुडे आदि द का प्रयोग ऐसे देश के नाम के साथ किया जाता है जिनमें किंग्डम स्टेट या पब्लिकन नाम आता हो जैसे यूनाइटेड स्टेट्स द यूनाइटेड किंगडम या द रिपब्लिक आफ आयरलैंड ऑल और बहुत दिन के बाद तथा फोन और सिम से पहले भी दा का प्रयोग किया जाता है तारीख यानी डेट से पहले भी दा का प्रयोग किया जाता है तो मित्र यह जवाब अच्छा लगा हो तो कृपया सब्सक्राइब लाइक शेयर और कमेंट करके जरूर बताएं धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

bolkar speakerअक्षर Y vowel है या consonant हैं?
Dollie kashwani Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dollie kashwani जी का जवाब
Energy Alchemist & Wellness Designer
0:34
रिबन आपने पूछा है अक्षर भाई मोबाइल है या कौन सनम तुम्हें बता दो जो है भाई अक्षर जो है कॉम्पोनेंट है क्योंकि जो हमारा इंग्लिश अल्फाबेट होता है उस फॉर वेल्थ होते ए ई आई ओ यू और पार्टी कितने होते हैं तो वह फंक्शन एंड होते हैं तो ए ई आई ओ यू के अलावा जितने भी शब्द थे वह कौन से दिन में आते हैं या नहीं भाई जो है ए ई आई ओ यू के अंदर नहीं है यह कौन सा नेट है आई होप आपको मैंने आंसर पसंद आया होगा विश यू ऑल द बेस्ट

#टेक्नोलॉजी

Aakancha Shaw Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Aakancha Shaw जी का जवाब
Unknown
0:44

#जीवन शैली

Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rahul kumar जी का जवाब
Unknown
0:53

#धर्म और ज्योतिषी

Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rahul kumar जी का जवाब
Unknown
1:05
कुछ लोग जैसे वैसे लोगों को दिखाने में सकुचाती क्यों है कि दूसरों के नजरों में अच्छा बनने की कोशिश करते हैं आप सुंदर देखना चाहते हैं आप अपने आप को स्वस्थ और हेल्दी और ब्यूटीफुल दिखाने की कोशिश करते हैं अपनी जो है याद करके अपने कपड़े पहने हुए करने के इच्छुक नहीं होंगे पर क्या चीज टाइप बगैरा सूट I3 पहन रखा तो लोग आपसे मिलने की और बात करने की इच्छा जाहिर करेंगे क्योंकि वह सोचेंगे कि आप कोई ना कोई बड़े आदमी दिखाना जो है आजकल के दौर के अंदर हर किसी का और यही कारण है कि जो दिखावटी जो दुनिया है इसके अंदर हम लोग फंसे हुए हैं तो आज आप हो या कोई और वह हर कोई व्यक्ति स्मार्ट बनना चाहेगा अपने आपको अच्छी तरीके से कपड़े इत्यादि सब जैसा है वैसा ही दिखाएंगे

#जीवन शैली

Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rahul kumar जी का जवाब
Unknown
0:58

#खेल कूद

Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rahul kumar जी का जवाब
Unknown
0:54
प्रिया सम्मोहन विद्या द्वारा किस तरह से किसी के मन को वश में कर लिया जाता है दोस्तों सब बिल्कुल भी नहीं है सम्मोहन विद्या वगैरह कुछ नहीं है परंतु आपको कुछ जरिया केमिकल जो इत्यादि होते हैं उन के माध्यम से आप किसी को भी अपने वश में तो कर सकते हैं परंतु उसकी जो मानसिकता जो है उसकी रियल लाइफ में उसको बस में नहीं कर सकते हैं आप किसी व्यक्ति को कोई शहर या कुछ केमिकल 41 लूंगा करके या किसी और तरीके से अपने वश में कर सकते हैं परंतु जो सम्मोहन विद्या ए ऑफिस से दूर रहिए क्योंकि यह जो ऐसी कोई विद्या नहीं है यह सिर्फ आपको किताब के अंदर भी देखने को नहीं मिलेगी परंतु धार्मिक किताबें उनके अंदर आपको देखने को मिल जाएगी कोई जादू टोने की जो चीजों की उम्र में देखने को मिल जाएगी परंतु कुछ भी चीज नहीं है आप किसी को केमिकल के माध्यम से लोगों का ब्रेनवाश करके आप जरूर किसी को वश में कर सकते हैं परंतु

#जीवन शैली

debidutta swain Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए debidutta swain जी का जवाब
Motivational speaker
1:10
देखे किसी में दिमाग कम है या फिर किसी में ज्यादा होता है इसका कोई ऐसे मजा नहीं है हरेक लोगों का मतलब निरंतर हर एक कर लो काम माइंड पावर डिफरेंट होता है और और और और चिकन चीज है कि कुछ लोगों का न्यूट्रिशन के चमक को बचपन से मिलता है उसी के ऊपर भी उनका दिमाग के पावर को उत्पन्न करता है जैसे कि बहुत टाइम हम देखते हैं कि बच्चों को हमेशा मां के पेट में जब रहता है तो उस माता को ज्यादा खाना दिया जाता है ज्यादा एल्बम्स वगैरा और अच्छा से खाना दिया जाता है या फिर बच्चे के टाइम पर होने टाइम पर उनको ज्यादा सही प्रकार की पोस्ट खाना दिया जाता है इसीलिए क्योंकि उनका मानसिक विकास रहते हो पाए इसलिए हम बोल सकते हैं कि कुछ लोगों का दिमाग का भार सही ज्यादा होता है कौन किस लोगों का कम होता है और चिकन जितने भी बोलना कि कुछ कुछ लोग ज्यादा मेडिटेशन करते हैं माइंड को बहुत टेबल करते हैं बैलेंस करते तो कहीं ना कि उनका माइंड अच्छे से चलता है ठीक है तो इसीलिए मोहब्बत नाटक राज कर सकते हैं कि लोगों के दिमाग कैसे तेज अलग होता है लेकिन मैं पूरी तरह से ये बात मैं सहमत नहीं हूं कि आपकी माइंड का सार अपने साहब की बचपन पर है यह से मैं नहीं बोल सकता हूं तो आप चाहो तो अपने माइंड का साथ में स्पीड बढ़ा सकते हैं धन्यवाद

#खेल कूद

भारत बनेगा स्वर्ग नमामि गंगे Bolkar App
Top Speaker,Level 22
रेस्टोरेंट में मुनीम के पद पर कार्यरत
2:06
करियर का सवाल है क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान लिखो एक चीज तो है मर जाना आपने कहा मर जाना तो अपनी इच्छा से मरना बहुत गलत होता है जब ऊपरवाला कहते हैं कि जब पूरी जिंदगी हकीकत एक सुख-दुख इंसान ठोक के जब मरता है वह चीज होती है और उसमें समस्याओं से माना तो यह बता कि आदमी जो चलते फिरते मर गया उसकी उम्र पूरी हो गई वह मर गया तो उसका समाधान होगा जो चला गया ना कि समाज का समाधान हुआ ना उसके बेटे समाधान हुआ उसके बेटी समाधान वह सब का समाधान जब होता है जब जो घर में परेशानियां होती उनका निवारण हो जाता है जब ही उनकी समस्याओं का समाधान होता है समाधान वह नहीं कि आप सोचें कि आखिरी स्टेट है आज मर जाए उसके बाद हम से कोई तगादा करेगा नमाज समस्या रहेंगे उस सब कुछ सब जानते हैं मेरे पीछे कौन देखता कौन नहीं देता है और समस्या कुछ नहीं दिया तूने समस्याएं आपके लिए तो नहीं रहेगी आप चले गए आप मर गए चले आप समस्या का समाधान हो गया जो आप नहीं हो लेकिन जो आपके पीछे खड़े हैं जो आपके बच्चे हैं या फिर पति या पत्नी है आपकी और मां है पिता है भाई है उनके उपर समस्याएं आती हैं तो बस समस्या उनकी हो जाती है अगर उसकी समस्या समाधान एक अच्छे तरीके से करके जाए और जो है मर जाना ना सोच कर एक अच्छी समस्या समाधान करके जाए तो अच्छा है मर जाना एक से सभी समस्या समाधान नहीं है फिर जो इंसान खुद मर कर चला गया उसकी समस्याएं भी चली गई समस्या मेरी समस्या नहीं होती इंसानों पर नहीं समझते हैं तो बहुत कम होती हैं समस्याएं भी उत्पन्न होती है वह समाज से उत्पन्न होती हैं घर से उत्पन्न होती हैं और अपने कुटुम समाय मेरा कहना है मर जाना ही समस्याओं का समाधान नहीं है

#जीवन शैली

debidutta swain Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए debidutta swain जी का जवाब
Motivational speaker
1:42
छोटी-छोटी बातों को और हमको चिढ़ हो रहा है तो इसके लिए मैं आपको एक सलाह दूंगा कि ट्राई करिए ठीक है कोशिश करेगी ज्यादा शांत रहने के लिए ज्यादा शांत रहने के लिए ज्यादा था आप एक अपने आप में एक के टारगेट सेट करें कि मैं इन चीजों को ना ज्यादा नहीं बोलूंगा या फिर आज के दिन में में टोटल में एक व्हाट्सएप पर एक सौ सेंटेंस बोलूंगा एक सौ बार क्यों बोलूंगा जिससे ज्यादा नहीं बोलूंगा तो इतने क्या होगा ना कि हमारी माहित को माइंड का हमारे मुंह साइलेंट रहेगा तो मेरे माइंड भी उसके बाद में थोड़ी शांति बन जाएगा और जब मन शांत बन जाएगा तो बन जाएगा तो हम हर एक बातों को ना अच्छी तरह से हम सोचेंगे समझेंगे कि हां यह बात तो क्या है क्यों है कैसा है उसको जब आप अच्छे से समझेंगे तो हमको चैट नहीं आएगा और हम उसे सलाह निकालने क्यों मत दिमाग में कोशिश लेट होगा ठीक है हम खुद चाय कोशिश करने लगेंगे कि इस जो प्रॉब्लम सिस्को समाधान कैसे करेंगे ऐसा नहीं कि आप चैटिंग नहीं रे हम दे देंगे ठीक है तभी होता है जब हमको समझता नहीं है प्रकाश से जब प्रॉब्लम पाया जब कोई चीज हम सुनील समझे तो फटाक चमन सरधना स्टार्ट कर दिए थे टिकट कब का मतलब ही बोलते हैं इंग्लिश में कि कुछ ना सोचे समझे उसको एक संदेश देते हैं तो इसी तरह में बोलना चाहूंगा कि हम अपने आप को रखना सिखाइए टिकट लेने कि आप चैट करो नहीं होगी लेकिन दूसरे जिलों में भी बेकार की बातें करते हैं जब आप फालतू की बकवास वगैरा करते हैं ठीक है हमें तो अपने को कंट्रोल करेगी थोड़ा शांत रहिए जब आप शांत करें ना पेक्टिस करोगे उसके बाद आपको ज्यादा चैट नहीं रहोगे और यह मेरा पर्सनल मैं यह प्रश्न टेक्स्प्रिंट्स चली तो इस हिसाब से मैं आपको सलाह दे रहा हूं

#रिश्ते और संबंध

debidutta swain Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए debidutta swain जी का जवाब
Motivational speaker
1:48

#जीवन शैली

debidutta swain Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए debidutta swain जी का जवाब
Motivational speaker
0:57
के समाज में जब आज कल की है जो झूठ फैलाया जा रहा है काफी इसका लिए बस के लिए बड़ी आगे की भूमिका निभा रहे हैं हमारे जो मीडिया हाउसेस यूटीवी है इसमें कहीं ना कहीं बहुत प्रकार की छूट छूट को फैलाया जा रहा है तो इसलिए मेरा हमेशा आपको राय है कि आप जब टीवी वगैरह को देख रहे हैं तो आपके अंदर में कंटेंस को दिखाइए जो धर्म के ऊपर हो जो जाति के ऊपर की हो जो देश के ऊपर क्यों जो आपको गुस्सा आंगन इससे देने वाली काम होते उनसे अपने आपको पहले दूर रखा है और दूसरी बात क्या है क्या आपके पास गूगल है आपके पास एक फोन है क्या ऑफ इंफॉर्मेशन से तो आप जो भी आपको जानना है ना आप उसको गूगल में रिचार्ज करिए उसको पढ़ उसको इंफॉर्मेशन स्कूल लीजिए और उसके पीछे थोड़ी रिचार्ज करें एक छोर से कभी भी मत देखना 500 उसको मिलाकर हमेशा इंफॉर्मेशन को लेना ठीक है सूचना को लेना तभी आप एक के झूठ तो झूठ फैलाया जा रहे साइड में उससे आप बच पाओगे नहीं बच पाओगे
    URL copied to clipboard