पॉपुलर श्रेणियां

{{ cat.n}}


एक लेखक को लिखते समय किन बातों का ध्यान देना चाहिए ?


3 जवाब
   


 Bolkar Disha Bhayani



इस जवाब पर कमेंट करें





इस जवाब पर कमेंट करें




एक लेखक को लिखते समय किन बातों पर ध्यान देना चाहिए बेटा देखे लेकिन कई क्षेत्रों में होता है सृजनात्मक लेखन आलोचनात्मक लेखन और परिचयात्मक लेकर कहानी कविता उपन्यास लिखा है तो उसकी दूसरी होती है जहां विचारों से ज्यादा भावना ही सकती हो और भावना में बहकर के हो लेकिन करता है मन में तो नगर बस यादें देरी क्यों ना हो और अपने गले का हार Mp3 क्यों ना हो और आगे तो बड़ी गजब की लाइन है देखते हैं किसके सहारे उसको ना सर झुका लूंगा इस फ्रिपरोनो संवेदनात्मक ले निबंध लिखित नाटक आता है कहानी आती है उसमें फिर से बंद होता है समीक्षा होती है रिपोर्ट साथ में दोनों 5050 होते हैं रेखाचित्र होता संस्थान होता है इसमें भी दोनों की होती है ना जो परिचयात्मक मैं मसूरी गया मसूरी की 14 बिल्कुल आसानी से समझा जा सके न दर्द भरी हो अनादर करने वाली ठीक है ना और समाधान निबंध लेखन कुछ मानदंड है और ध्यान रखिए हर कोई तुलसीदास नहीं बनता है हर कोई सूरदास नहीं बनता हर कोई कबीरदास और कोई प्रेमचंद नहीं बनता है कि नहीं बनता है और ईश्वर की मर्जी है जिसे दे दे यह सब कर्म प्रारब्ध जो कुछ भी कह दीजिए लेकिन कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना चाहिए इसीलिए रामचंद्र शुक्ल ने कहा है कि साहित्य के सीजन में परिस्थितियों का भी बहुत बड़ा योगदान है उनकी लाइने किसी भी देश का साइड थे वहां की जनता की चित्तवृत्ति का फल अजीब होता है अंतिम बात आपसे निवेदन अगर साथ हो तो मूल्यों को लेकर लिखेंगे तो आपका साहित्य देर तक ठेकेदार तात्कालिक मूल्यों को लेकर तो प्रभावी तो जल्दी हो सकता है लेकिन 3GB शायद ही हो सके उतना ही प्रभावी है या नहीं है तो शाश्वत मूल्य और तात्कालिक मुझे साहित्य सीरियल के दो पर्दा ने इन सभी ध्यान रखना
इस जवाब पर कमेंट करें



ऐप में खोलें