पॉपुलर श्रेणियां

{{ cat.n}}


'सोचा न था' इस पंक्ति को आप अपने अंदाज में कैसे पूरा करेंगे?


2 जवाब
   


 Bolkar Rajnish Singh



इस जवाब पर कमेंट करें




सोचा ना था इस पंक्ति को आप अपने अंदाज में कैसे पूरा करेंगे जिंदगी में व्यक्ति जब आगे बढ़ता है एक लक्ष्य निर्धारित करता है साध्य और साधन के रूप में कर्म का उपयोग करता है वह शुरू में ही अनुमान लगा लेता है मेरा एक कर्म सार्थक होगा अथवा लेकिन भाग्य कभी-कभी ऐसी अठखेलियां करता है कि जो हम सोचते नहीं है वह भी हो जाता है और जो सोच कर के चलते हैं कि नहीं ऐसा होगा वह बिल्कुल ही नहीं है इसलिए सोचा ना था इस पंक्ति को अगर आप भी पूरा करते हैं इसके दो ही होंगे आशीष के कि सोचा ना था कभी ऐसा भी होगा पूर्णता के अर्थ में अप्रतिम अप्रत्याशित उपलब्धियों के अर्थ और सोचा ना था ऐसा भी होगा संकट की स्थिति में दुर्भाग्य की स्थितियों में पराजय की स्थितियों में असफलता की सफलता का भी पूरक बन सकती है असफलता का भी पूर्ण सकती है इसलिए इसे दोनों जगह प्रयुक्त कर सकते हैं सब जिंदगी हार और जीत का नाम आशावादी जिंदगी जीने की कोशिश करना चाहिए तो सोचा ना था कि मुझे ऐसा लगता है सफलता और असफलता का द्योतक पूर्व वाक्य नहीं है बल्कि कहीं न कहीं आशावादी ता कभी सोचा ना था ऐसा उसमें दुर्भाग्य आएगा लेकिन इसके पीछे यही है यह सोचा ना था आएगा अर्थात अब आ गया तो मैं इसे स्वीकार कर रहा हूं लेकिन इससे हतोत्साहित नहीं होगा अर्थ वाक्य में मानक पदमी की बातचीत हुई है थैंक यू
इस जवाब पर कमेंट करें



ऐप में खोलें