पॉपुलर श्रेणियां

{{ cat.n}}


हवा और भांप पर गुरुत्वाकर्षण बल काम क्यूं नहीं करता?


2 जवाब
   


 Bolkar Ajay sinh Pawar


हवा और भाप पर गुप्ता का संदल काम क्यों नहीं करता दिल की हवा और भक्तों का वजन कम होता है 6 पॉइंट 3 किलो यानी कि 6 किलो 300 ग्राम के आसपास हवा के स्तंभ का वजन होता है हवा के भजन द्वारा हम कम दबाव वाले क्षेत्रों में उन स्थानों पर वायुमंडलीय द्रव्यमान कम होता है जबकि अधिक दबाव वाले क्षेत्रों में स्थानों पर अधिक वायु मंडली द्रव्यमान होता है जैसे-जैसे ऊंचाई बढ़ती जाती है उस स्तर के ऊपर वायु मंडली द्रव्यमान कम होता जाता है इसलिए बढ़ती ऊंचाई के साथ दबाव घट जाता है और समुद्र तल से वायुमंडल के सिर्फ एक 1 वर्ग इंच बार अनुप्रस्थ काट वाले हवा के संपादन 365 3 किलोग्राम होता है और 1 वर्ग सेंटीमीटर अनुप्रस्थ काट वाले वायु स्तंभ का वजन 1 किलोग्राम से कुछ अधिक होता है और रही बात की बात प्रभात जो है उसने जब ठंडी होती है तब वह उसके वजन से पृथ्वी पर वापस आती है यानी कि वह जब जल बूंदों में परिवर्तित होती है वतन की ठंडक से तब उसका भार बढ़ते बढ़ने के कारण वह पृथ्वी पर वापस आती है और भाप के स्वरूप में वह एक तरह से वायु स्वरूप में होती है और वह ऊपर की ओर जाती है क्योंकि उस समय उसका वजन काफी कम होता इसलिए हवा और भाग पर गुरुत्वाकर्षण का बल कम काम करता है क्योंकि गुरुत्वाकर्षण का बल उसी को कहते हैं कि जो उसका वजन उसी पर निर्धारित होता है उसकी घंटा और उसके आकार धन्यवाद
इस जवाब पर कमेंट करें




यह प्रश्न अत्यंत रोचक है यह प्रश्न है हवा और आप पर गुरुत्वाकर्षण बल काम क्यों नहीं करता तो सबसे पहले आप यह जानने की गुरुत्वाकर्षण बल का सिद्धांत क्या कहते हैं गुरुत्वाकर्षण बल दो पिंडों के द्रव्यमान ओके गुणनफल के समानुपाती तथा उनके बीच की दूरी के वर्ग के व्युत्क्रमानुपाती होता है इसका मतलब की दो पिंडों के बीच में फल लगते हैं तो उनके बीच में कुछ अंतर विमान होता है उनका व्यवहार में जरूरी है लेकिन हवा और आप जो है इतना ज्यादा हल्का होता पार्टिकल इन का हल्का होता है कि इनकी और पृथ्वी के मध्य कोई नंबर नहीं लग पाता की वजह से यह हवा में पंख और हवा और आप हमेशा गतिमान काफी ज्यादा हल्का होता है इसने पर गुरुत्वाकर्षण बल काम नहीं कर पाता तो उम्मीद करता हूं आपको समझ आ गया होगा उसका पर्सनल लड़कियां लगने के लिए अभिमान का अच्छा खासा होना जरूरी है और हवा और बाप ने बहुत कम द्रव्यमान होता है तो इस वजह से उस पर कोई पल नहीं लगता तो उम्मीद करता हूं आप समझ गए होंगे मेरे जवाब से संतुष्ट होंगे इसी के साथ अपनी वाणी को विराम देना चाहूंगा धन्यवाद
इस जवाब पर कमेंट करें



ऐप में खोलें