पॉपुलर श्रेणियां

{{ cat.n}}


"धरती पर भरी लाशों का तांडव देखकर और आकाश में गिद्धों की फौज को देखकर मेरे दिल से आह निकलती है।" क्या आज के समय में इस कविता की पंक्ति सचमुच सही होती दिखती है?


1 जवाब
   


 Bolkar Rakesh Kumar Yadav



इस जवाब पर कमेंट करें



ऐप में खोलें