#विज्ञान

Priyal dawar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Priyal dawar जी का जवाब
Future Doctor
1:33
बहुत ही अच्छा प्रश्न है आज लोहरी त्यौहार वाले दिन यानी 13 जनवरी को गिलहरी के बारे में कुछ रोचक तत्व क्या है तो हम में से ज्यादातर लोग जानते हैं कि यह हिंदू धर्म के लोगों का त्योहार है और यह सबसे ज्यादा पंजाब में बनाया जाता है पर क्या हम जानते हैं कि क्यों बनाया जाता है तो आज के दिन पंजाब में लोहड़ी माता की पूजा की जाती और इसे बड़े ही हर्षोल्लास के साथ लोग बनाते हैं इस में भाग लेते हैं खूब नाच गाना करते हैं कितना किया जाता है और खाने के खूब सारे पकवान बनाए जाते हैं जिसमें के गुड़ से बनी चीजें जैसे गजक तिल के लड्डू और मूंगफली से बनी चीजें शामिल होती है पर जो चीजें हम नहीं चाहते हैं वह यह है कि यह मेहंदी इसलिए बनाया जाता है क्योंकि इस समय तक गेहूं की कटाई हो चुकी होती है और लोगों का ऐसा मानना है कि किसानों का नया वर्ष किसी से टाइम से स्टार्ट होता है और ऐसा कहा जाता यह साल का सबसे छोटा दिन होता है और सबसे लंबी रात कही जाती है और आज ही के टाइम से ठंड के मौसम खत्म होता है और बसंत ऋतु प्रारंभ होती है और गर्मी थोड़ी-थोड़ी आने लगती है और इसको लहरी को मां की भी कहा जाता है क्योंकि आज ही गए आज ही के दिन से माघ मास की का प्रारंभ होता है तो इसे मांगी कहा जाता है तो इसी तरह की कुछ लहरी के बारे में कुछ रोचक तत्व हमें पता चले धन्यवाद

और जवाब सुनें

Ashok Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Ashok जी का जवाब
कृषक👳💦
4:00
फुल का लैपटॉप स्पीकर सौरभ राय जी द्वारा सवाल पूछा गया है लोहरी त्यौहार के बारे में कुछ रोचक तथ्य क्या है देखी तोहार एक और नाम अनेक भारत के अलग-अलग प्रांतों में मकर सक्रांति के दिन या आसपास द्वारा मनाया जाते हैं जो कि मकर सक्रांति के दूसरे रूप हैं उन्हीं में से एक है लोहड़ी पंजाब और हरियाणा में लोहड़ी का त्यौहार धूमधाम से मनाया जाता है लोहड़ी को पहले सीलोन कहा जाता था यह शब्द तिल तथा रोड़ी यानी कि गुड़ की रोड़ी शब्दों के मेल से बना है जो समय के साथ बदल कर लो घड़ी के रूप में प्रसिद्ध हो गया मकर सक्रांति के दिन भी तिल गुड़ खाने और बांटने का महत्व पंजाब के कई इलाकों में से लोहिया लो अभी कहा जाता है वर्ष की शबरी प्योर में पतझड़ सावन और बसंत में कई तरह के छोटे बड़े त्यौहार मनाए जाते हैं इनमें से एक प्रमुख त्योहार लोहड़ी है जो बसंत के आगमन के साथ 13 जनवरी महीने की आखिरी रात को मनाया जाता है इसके अगले दिन माघ महीने की सक्रांति को माघी के रूप में मनाया जाता है लोहड़ी की संध्या को लोग लकड़ी जलाकर अग्नि के चारों ओर चक्कर काटते हुए नाचते गाते हैं और आग में रेवड़ी मूंगफली के मक्की के दाने की आरती देते हैं अग्नि की परिक्रमा करते और आग के चारों ओर बैठकर लोग आंख सकते हैं इस दौरान रेवड़ी खेल गजत मक्का आदि खाने का आनंद लेते लोहड़ी के दिन विशेष पकवान बनते हैं जिसमें गजक रेवड़ी मूंगफली तिल गुड़ के लड्डू मक्का की रोटी और सरसों का साग प्रमुख होते से कुछ दिन पहले से छोटे बच्चे लोहड़ी के गीत गाकर लोहड़ी हेतु लकड़ियां में मेरे बढ़िया मुंह आदि इकट्ठा करने लग जाते नववधू बहन बेटी और बच्चों का उत्सव है यह और पंजाबियों के लिए लोहड़ी उत्सव खास महत्व रखता है जिस घर में नई शादी हुई हो या बच्चा हुआ हो उन्हें विशेष तौर पर बधाई दी जाती है पराया घर में नववधू या बच्चे की पहली लोहड़ी बहुत विशेष होती है इस दिन बड़े प्रेम से बहन और बेटियों को घर बुलाया जाता है कहा जाता है कि संत कबीर की पत्नी लुई की याद में यह पर्व मनाया जाता है यह मानता भी है कि सुंदरी एवं मुंद्री नाम की लड़कियों को राजा से बचाकर एक दुल्ला भट्टी नामक डाकू ने किसी अच्छे लड़कों से उनकी शादी करवा दी थी बैसाखी त्योहार की तरह लोहड़ी का संबंध भी पंजाब के गांव फसल और मौसम से इस दिन से मूली और गन्ने की फसल बोई जाती है इससे पहले रवि की फसल काटकर घर में रख ली जाती है खेतों में सरसों के फूल लहराते दिखाई देते हैं पौराणिक मान्यता के अनुसार सती के त्याग के रूप में यह त्यौहार मनाया जाता है कथा अनुसार जब प्रजापति दक्ष त्यागी की आग में कूदकर शिप की पत्नी साथी ने आत्मदाह कर लिया था उसी दिन की याद में यह पर्व मनाया जाता है आधुनिकता के चलते लोहड़ी मनाने का तरीका बदल गया है अब लोहड़ी में पारंपरिक पहनावे और पकवानों की जगह आधुनिक पहनावे और पकवानों को शामिल कर लिया गया है लोग भी आप इस उत्सव में कमी भाग लेते ईरान में भी नववर्ष का त्यौहार इसी तरह मनाते हैं आग जलाकर मेरे अर्पित किए जाते हैं मसलन पंजाब हरियाणा और दिल्ली में मनाई जाने वाली लोडी और ईरान का चार समय सूरी बिल्कुल एक जैसे त्योहार है इसे ईरानी पार्टियों या प्राचीन ईरान का उत्सव मानते हैं निवास

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

#पढ़ाई लिखाई

Vikas Sharma  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Vikas Sharma जी का जवाब
No
0:43

#स्वास्थ्य और योग

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Archana Mishra जी का जवाब
Housewife
1:00
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है कीवी खाने के क्या फायदे होते हैं तो फ्रेंड्स की भी बहुत ही अच्छा फ्रूट होता है और यह सर्दियों में मिलने वाला फल होता है और इसमें बहुत सारे पोषक तत्व होते हैं बहुत सारे विटामिन होते हैं और इसमें विटामिन सी भी होता है कि भी मैं और की भी हमारे शरीर में खून में जो प्लेटलेट होते हैं उसे बहुत तेजी से बढ़ आता है जब भी किसी को डेंगू मलेरिया कोई बुखार हो जाता है और उसके प्लेटेड स्कर्ट जाते हैं तो अगर व्यक्ति भी खाए तो उसकी प्लेटलेट्स बहुत तेजी से बढ़ते हैं तो कीवी बहुत ही अच्छा फ्रूट होता है और भी बहुत की भरपूर गुणों का खजाना होता है उसमें तो आपकी भी खा सकते हैं आराम से दिन में एक या दो कि भी खाइए आपके फोन में जो प्लेटलेट्स तरह बढ़ेगा और आपकी ब्लड में बहुत ताकत आएगी तो फ्रेंड सब को जवाब अच्छे लगे तो लाइक कीजिएगा धन्यवाद

#जीवन शैली

Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rahul kumar जी का जवाब
Unknown
0:53

#धर्म और ज्योतिषी

Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rahul kumar जी का जवाब
Unknown
1:05
कुछ लोग जैसे वैसे लोगों को दिखाने में सकुचाती क्यों है कि दूसरों के नजरों में अच्छा बनने की कोशिश करते हैं आप सुंदर देखना चाहते हैं आप अपने आप को स्वस्थ और हेल्दी और ब्यूटीफुल दिखाने की कोशिश करते हैं अपनी जो है याद करके अपने कपड़े पहने हुए करने के इच्छुक नहीं होंगे पर क्या चीज टाइप बगैरा सूट I3 पहन रखा तो लोग आपसे मिलने की और बात करने की इच्छा जाहिर करेंगे क्योंकि वह सोचेंगे कि आप कोई ना कोई बड़े आदमी दिखाना जो है आजकल के दौर के अंदर हर किसी का और यही कारण है कि जो दिखावटी जो दुनिया है इसके अंदर हम लोग फंसे हुए हैं तो आज आप हो या कोई और वह हर कोई व्यक्ति स्मार्ट बनना चाहेगा अपने आपको अच्छी तरीके से कपड़े इत्यादि सब जैसा है वैसा ही दिखाएंगे

#जीवन शैली

Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rahul kumar जी का जवाब
Unknown
0:58

#खेल कूद

Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rahul kumar जी का जवाब
Unknown
0:54
प्रिया सम्मोहन विद्या द्वारा किस तरह से किसी के मन को वश में कर लिया जाता है दोस्तों सब बिल्कुल भी नहीं है सम्मोहन विद्या वगैरह कुछ नहीं है परंतु आपको कुछ जरिया केमिकल जो इत्यादि होते हैं उन के माध्यम से आप किसी को भी अपने वश में तो कर सकते हैं परंतु उसकी जो मानसिकता जो है उसकी रियल लाइफ में उसको बस में नहीं कर सकते हैं आप किसी व्यक्ति को कोई शहर या कुछ केमिकल 41 लूंगा करके या किसी और तरीके से अपने वश में कर सकते हैं परंतु जो सम्मोहन विद्या ए ऑफिस से दूर रहिए क्योंकि यह जो ऐसी कोई विद्या नहीं है यह सिर्फ आपको किताब के अंदर भी देखने को नहीं मिलेगी परंतु धार्मिक किताबें उनके अंदर आपको देखने को मिल जाएगी कोई जादू टोने की जो चीजों की उम्र में देखने को मिल जाएगी परंतु कुछ भी चीज नहीं है आप किसी को केमिकल के माध्यम से लोगों का ब्रेनवाश करके आप जरूर किसी को वश में कर सकते हैं परंतु

#जीवन शैली

debidutta swain Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए debidutta swain जी का जवाब
Motivational speaker
1:10
देखे किसी में दिमाग कम है या फिर किसी में ज्यादा होता है इसका कोई ऐसे मजा नहीं है हरेक लोगों का मतलब निरंतर हर एक कर लो काम माइंड पावर डिफरेंट होता है और और और और चिकन चीज है कि कुछ लोगों का न्यूट्रिशन के चमक को बचपन से मिलता है उसी के ऊपर भी उनका दिमाग के पावर को उत्पन्न करता है जैसे कि बहुत टाइम हम देखते हैं कि बच्चों को हमेशा मां के पेट में जब रहता है तो उस माता को ज्यादा खाना दिया जाता है ज्यादा एल्बम्स वगैरा और अच्छा से खाना दिया जाता है या फिर बच्चे के टाइम पर होने टाइम पर उनको ज्यादा सही प्रकार की पोस्ट खाना दिया जाता है इसीलिए क्योंकि उनका मानसिक विकास रहते हो पाए इसलिए हम बोल सकते हैं कि कुछ लोगों का दिमाग का भार सही ज्यादा होता है कौन किस लोगों का कम होता है और चिकन जितने भी बोलना कि कुछ कुछ लोग ज्यादा मेडिटेशन करते हैं माइंड को बहुत टेबल करते हैं बैलेंस करते तो कहीं ना कि उनका माइंड अच्छे से चलता है ठीक है तो इसीलिए मोहब्बत नाटक राज कर सकते हैं कि लोगों के दिमाग कैसे तेज अलग होता है लेकिन मैं पूरी तरह से ये बात मैं सहमत नहीं हूं कि आपकी माइंड का सार अपने साहब की बचपन पर है यह से मैं नहीं बोल सकता हूं तो आप चाहो तो अपने माइंड का साथ में स्पीड बढ़ा सकते हैं धन्यवाद

#खेल कूद

भारत बनेगा स्वर्ग नमामि गंगे Bolkar App
Top Speaker,Level 22
रेस्टोरेंट में मुनीम के पद पर कार्यरत
2:06
करियर का सवाल है क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान लिखो एक चीज तो है मर जाना आपने कहा मर जाना तो अपनी इच्छा से मरना बहुत गलत होता है जब ऊपरवाला कहते हैं कि जब पूरी जिंदगी हकीकत एक सुख-दुख इंसान ठोक के जब मरता है वह चीज होती है और उसमें समस्याओं से माना तो यह बता कि आदमी जो चलते फिरते मर गया उसकी उम्र पूरी हो गई वह मर गया तो उसका समाधान होगा जो चला गया ना कि समाज का समाधान हुआ ना उसके बेटे समाधान हुआ उसके बेटी समाधान वह सब का समाधान जब होता है जब जो घर में परेशानियां होती उनका निवारण हो जाता है जब ही उनकी समस्याओं का समाधान होता है समाधान वह नहीं कि आप सोचें कि आखिरी स्टेट है आज मर जाए उसके बाद हम से कोई तगादा करेगा नमाज समस्या रहेंगे उस सब कुछ सब जानते हैं मेरे पीछे कौन देखता कौन नहीं देता है और समस्या कुछ नहीं दिया तूने समस्याएं आपके लिए तो नहीं रहेगी आप चले गए आप मर गए चले आप समस्या का समाधान हो गया जो आप नहीं हो लेकिन जो आपके पीछे खड़े हैं जो आपके बच्चे हैं या फिर पति या पत्नी है आपकी और मां है पिता है भाई है उनके उपर समस्याएं आती हैं तो बस समस्या उनकी हो जाती है अगर उसकी समस्या समाधान एक अच्छे तरीके से करके जाए और जो है मर जाना ना सोच कर एक अच्छी समस्या समाधान करके जाए तो अच्छा है मर जाना एक से सभी समस्या समाधान नहीं है फिर जो इंसान खुद मर कर चला गया उसकी समस्याएं भी चली गई समस्या मेरी समस्या नहीं होती इंसानों पर नहीं समझते हैं तो बहुत कम होती हैं समस्याएं भी उत्पन्न होती है वह समाज से उत्पन्न होती हैं घर से उत्पन्न होती हैं और अपने कुटुम समाय मेरा कहना है मर जाना ही समस्याओं का समाधान नहीं है

#जीवन शैली

debidutta swain Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए debidutta swain जी का जवाब
Motivational speaker
1:42
छोटी-छोटी बातों को और हमको चिढ़ हो रहा है तो इसके लिए मैं आपको एक सलाह दूंगा कि ट्राई करिए ठीक है कोशिश करेगी ज्यादा शांत रहने के लिए ज्यादा शांत रहने के लिए ज्यादा था आप एक अपने आप में एक के टारगेट सेट करें कि मैं इन चीजों को ना ज्यादा नहीं बोलूंगा या फिर आज के दिन में में टोटल में एक व्हाट्सएप पर एक सौ सेंटेंस बोलूंगा एक सौ बार क्यों बोलूंगा जिससे ज्यादा नहीं बोलूंगा तो इतने क्या होगा ना कि हमारी माहित को माइंड का हमारे मुंह साइलेंट रहेगा तो मेरे माइंड भी उसके बाद में थोड़ी शांति बन जाएगा और जब मन शांत बन जाएगा तो बन जाएगा तो हम हर एक बातों को ना अच्छी तरह से हम सोचेंगे समझेंगे कि हां यह बात तो क्या है क्यों है कैसा है उसको जब आप अच्छे से समझेंगे तो हमको चैट नहीं आएगा और हम उसे सलाह निकालने क्यों मत दिमाग में कोशिश लेट होगा ठीक है हम खुद चाय कोशिश करने लगेंगे कि इस जो प्रॉब्लम सिस्को समाधान कैसे करेंगे ऐसा नहीं कि आप चैटिंग नहीं रे हम दे देंगे ठीक है तभी होता है जब हमको समझता नहीं है प्रकाश से जब प्रॉब्लम पाया जब कोई चीज हम सुनील समझे तो फटाक चमन सरधना स्टार्ट कर दिए थे टिकट कब का मतलब ही बोलते हैं इंग्लिश में कि कुछ ना सोचे समझे उसको एक संदेश देते हैं तो इसी तरह में बोलना चाहूंगा कि हम अपने आप को रखना सिखाइए टिकट लेने कि आप चैट करो नहीं होगी लेकिन दूसरे जिलों में भी बेकार की बातें करते हैं जब आप फालतू की बकवास वगैरा करते हैं ठीक है हमें तो अपने को कंट्रोल करेगी थोड़ा शांत रहिए जब आप शांत करें ना पेक्टिस करोगे उसके बाद आपको ज्यादा चैट नहीं रहोगे और यह मेरा पर्सनल मैं यह प्रश्न टेक्स्प्रिंट्स चली तो इस हिसाब से मैं आपको सलाह दे रहा हूं

#रिश्ते और संबंध

debidutta swain Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए debidutta swain जी का जवाब
Motivational speaker
1:48

#जीवन शैली

debidutta swain Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए debidutta swain जी का जवाब
Motivational speaker
0:57
के समाज में जब आज कल की है जो झूठ फैलाया जा रहा है काफी इसका लिए बस के लिए बड़ी आगे की भूमिका निभा रहे हैं हमारे जो मीडिया हाउसेस यूटीवी है इसमें कहीं ना कहीं बहुत प्रकार की छूट छूट को फैलाया जा रहा है तो इसलिए मेरा हमेशा आपको राय है कि आप जब टीवी वगैरह को देख रहे हैं तो आपके अंदर में कंटेंस को दिखाइए जो धर्म के ऊपर हो जो जाति के ऊपर की हो जो देश के ऊपर क्यों जो आपको गुस्सा आंगन इससे देने वाली काम होते उनसे अपने आपको पहले दूर रखा है और दूसरी बात क्या है क्या आपके पास गूगल है आपके पास एक फोन है क्या ऑफ इंफॉर्मेशन से तो आप जो भी आपको जानना है ना आप उसको गूगल में रिचार्ज करिए उसको पढ़ उसको इंफॉर्मेशन स्कूल लीजिए और उसके पीछे थोड़ी रिचार्ज करें एक छोर से कभी भी मत देखना 500 उसको मिलाकर हमेशा इंफॉर्मेशन को लेना ठीक है सूचना को लेना तभी आप एक के झूठ तो झूठ फैलाया जा रहे साइड में उससे आप बच पाओगे नहीं बच पाओगे
  • लोहड़ी के रोचक तथ्य क्या है, लोहड़ी के बारे में रोचक तथ्य क्या है
URL copied to clipboard