#भारत की राजनीती

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:43
रश्मि जी राहुल गांधी पीएम नहीं बन सकते ऐसा क्यों आपने भी जो कुछ किया है कि नहीं बन सकते कुछ में मारे गए हो सकता है बन जाए क्योंकि यह राजनीति कब पलटेगी को जानता नहीं कि राहुल गांधी भी अपनी फिल्म के लिए बहुत ज्यादा हाईलाइट है कि अब पीएम बनेंगे और भाजपा को सत्ता से बाहर भी तो और कहां रहता है तो बिल्कुल आप इस संबंधी पीएम बनेंगे जहां तक मुझे लगता है एक मौका जरूर मिलेगा हमको कांग्रेसी तरफ से तभी हो तो वह कहां किसके मित्रों से बहुत वैलिडेट मेंबर है

#भारत की राजनीती

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:54
उसने बजे कि मुझे सर का तारा मंजूर की गई कोरोनावायरस इन पर इतने सवाल क्यों टाइम देखिए सवाल क्यों उठ रहे हैं यह आजकल जो सोशल मीडिया है एक तो न्यूज़ चैनल का टीवी देखते हैं और एक न्यूज चैनल को यूट्यूब धोनी चालू हो गए इस समय सच्चाई क्या है यह तो किसी को मालूम नहीं अगर बागी बन गए तो फिर उसको बदनाम करें कोशिश भी की जाती आने कंपनी में द्वारा किस को बदनाम करो ताकि कोई लगवाना फिर हमारी कंपनी के पैसे निकाल लेंगे फिर वह लोग उसको रोक लगवा आएंगे पैसा कमाने के लिए तो पैसे के का सफल बिजनेसमैन अपना में रोटी सेक रहे हैं और निजी सरकार ने गब्बर सिंह लाई है तो हमें लगाना चाहिए हमें उस पर सवाल नहीं उठाना चाहिए हम बहुत स्टेट से हो गई वर्जिन आती है बहुत तगड़ी मार कर के हमारे देश के डॉक्टरों ने इस बच्ची को निकाला है

#भारत की राजनीती

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:23
सही है कि भारत के सबसे पहले प्रधानमंत्री कौन थे हैं लेकिन 15 वर्ष 1947 और उसके बाद हमारे पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू और हमें लगा कि वह चाहे उतना tc-22 में हुआ था तो अभी जिंदा थे 164 में शायद उनकी मृत्यु हुई 1964

#स्वास्थ्य और योग

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:50
प्रश्न आपका है कि नींद ना आने की समस्या को हम कैसे दूर करें लेकिन यह समस्या जो है एक तरफ से आम समस्या बनती जा रही है नींद का आना ना दूर करने का तरीका कि आप 10:00 बजे बैठ कर चले जाएं मोबाइल लैपटॉप से दूर है और सोने की कोशिश करें दिल्ली के दिल्ली दूसरी चीज है कि यह करते हुए आप किसी डॉक्टर से सलाह लें कुछ आयुर्वेदिक दवाइयां ले क्योंकि देखिए कि मुझे अभी बस होता है जो हमारे दिमाग में बनता है या अपनी दोस्त साइकिल लेनी थी वह घबरा जाती है फिर उसको सही करने के लिए आप डॉक्टर से सलाह से इसमें आपको आयुर्वेदिक दवाई खाई है इंग्लिश नहीं एलोपैथी अमेरिका चाहिए यह उम्र भर का सहारा लीजिए आप को इस समस्या से निजात मिल जाएगी

#स्वास्थ्य और योग

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:39
अंग्रेजी प्रश्न किया कि क्या एक इंसान क्यों नहीं से जिंदा रह सकता है तो बिल्कुल रहता है आगे लेकिन वह जरा काम ना करें समझ रहे हैं कि हार्डवर्क ना करें तो फिर किडनी से आराम से 70 साल तक जिंदा रह सकता है उसको क्या खाना है क्या नहीं खाना है पानी कितना पीना से डॉक्टर के सेशन लेकर काम करना चाहिए किडनी है क्या गूगल तंबाकू पानी सबसे नहीं खाना चाहिए और पानी सही मात्रा में लेना चाहिए अभी ज्यादा भोजन नहीं करना चाहिए जिंदा रह सकता है उसमें कोई समस्या नहीं है एक किडनी पर भी जान आराम से 70 साल तक जिंदा रह सकता है

#स्वास्थ्य और योग

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:24
ग्राहक आया कि क्या तेल लगाने से बालों को फायदा होता है तो बिल्कुल होता है वर्धक तेल लगाएंगे तो यह तेल जो है वह बालों की जड़ों तक जाता है लेकिन मटर करता कि आप कौन सा तेल लगाते हैं क्योंकि तेरे में भी विटामिन होते हैं वह विटामिन ए में बालों की जड़ से जुड़ तो जाते हैं और हमारी जड़ों को मजबूत बनाते हैं बाल काले होते हैं लंबे होते हैं सुंदर होते हैं जो आपके सुंदर के लिए बहुत ही जरूरी है

#स्वास्थ्य और योग

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:26
ऐसा कुछ नहीं कि यदि कोई व्यक्ति लंबे समय तक धूप के संपर्क नहीं आता है तो क्या शरीर इंसानों का तो दीजिए अगर आपको लंबे समय तक धूप के संपर्क नहीं आएंगे तो फिर विटामिन डी की कमी होगी इसलिए सुबह के समय हमें दुख देना चाहिए ना कुछ कम कलेक्शन होते हैं स्वर के प्रकार से हमारे शरीर के अंदर और विटामिन डी बनता है कि नहीं बनेगा तो फिर इसकी कमी से सूखा रोग आपका शरीर कमजोर

#स्वास्थ्य और योग

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:25
मुझे प्रश्न है कि गर्मी के मौसम में उत्तरी मैदानों में बनने वाली गर्म एवं सूची पवन को क्या कहते हैं तो गर्मी के मौसम में दीजिए उत्तरी मैदान में गर्मी बहुत ज्यादा पड़ती है और घर में पूजा पढ़ने से जो महामाया बहुत तेज चलती है और बहुत गर्म होती है इसको हम दुख आते हैं हमारे यहां दुकान आओगे या नहीं सोने को सुन लीजिए जो क्या कहते हैं

#रिश्ते और संबंध

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:46
हां देखिए आप कुछ नहीं जी लड़की से कैसे पूछे कि मुझसे प्यार करती है ताकि अगर आपने प्यार किया है तो फिर डरना क्या एक पिक्चर भेजा गाना भेज दो समझ गए होंगे प्यार करते हैं तो पूछ लीजिए कि क्या वह प्यार करती है या नहीं करती है और एक बार कंफर्म कर लीजिए और नहीं करती है तो फिर आप ऐसा करिए कि आप से प्यार करने लगे क्योंकि प्यार एक दूसरे को समझना है एक दूसरे को प्यार करना है यही प्यार है एक दूसरे की सेवा करना ही प्यार है आप जितना एक दूसरे की सेवा करेंगे प्यार प्यार करेंगे उतना ही प्यार पड़ेगा प्यार पड़ता है यार करना है

#टेक्नोलॉजी

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
1:42
भी कुछ ना भैया जी की सेवा कैसे लूंगा जीवन भर लेगी तो फिर भी जब टेक्नोलॉजी आएगी तो 2G स्पीड तो पड़ेगा जैसे अभी 4G में स्पीड अच्छी आ रही है तो फिर फिर भी मैं इस वीडियो से अच्छी होगी और नेता के सभी माली जी 2जी 3जी 4जी मिल रहा है तो वहां पर कंपनियों का जो डाटा पैक वह भी बढ़ेगा तो नहीं थी जो डाटा पड़ेगा स्पीड बढ़ेगी तो जैसे आज शाम घर बैठे कर रहे हैं कुरान में अब देखें कि जो भेजने से वह ऑफलाइन चार लाइन शिफ्ट हो गया चाहे किसी वस्तु की सेलिंग हो जाए फिर से शिक्षा को मैक्सिमम काम जो है वह घर बैठे ऑनलाइन हुआ तो फिर भी टेक्नोलॉजी आने से ब्लड में रहने से ठीक है तू चीजें बदलेंगे विनाश का एक ग्रुप है वह बदल रहा है चाहे काम है जिसे प्राइवेट कंपनियों को लेकर बैठे काम किया है तो उसे इंटरनेट की बस से बोलो घर बैठकर काम किए हैं अगर कर कार इंटरनेट आजा ब्रॉडबैंड आजा तो सोचे जो प्राइवेट कंपनी में जो लोग काम करते हैं वह उनको फिर वहां नहीं रहना पड़ेगा कंपनी वह कर बैठ कर अपना काम भी कर सकते हैं कितना बदलाव आया एक बार बाहर है रूम कारण दे रहे हैं अगर ₹50 कमा रहे तो फिर 30035 सारा पैसा खर्च कर दे रहे हैं लेकिन घर बैठकर काम करेंगे सैलरी पूरी आएगी और आराम से घर बैठे इंजॉय भी ले सकते हैं उन्हें परिवार मां-बाप मां-बाप दादा-दादी अन्य लोगों के साथ रह सकते हैं तो बहुत जिंदगी बदलेगी देखेगी तो नेट तो है लोगों की जिंदगी बदल रही ना बदल रही भैया एक छोटे से पहले क्या होता था कि रिचार्ज हो ट्यूशन पढ़ाकर 10 बच्चे से काम कितना कमा लेता था लेकिन भाई जल्दी ऑनलाइन आ रहा है जहां महीना हजारों का माल आता है वह लाखों का मारा तो ऐसे जीवन बदलेगा लोगों का

#धर्म और ज्योतिषी

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:30
कुछ नहीं कि हम पिछले जन्म में कौन थे या कैश जाएंगे देखिए हमारे देश में एक विद्यालय इसको हम ज्योतिष विद्या करेंगे और ज्योतिष के माध्यम से हम कुछ भी जान सकते हैं लेकिन यह तो ज्योति से बहुत बढ़ जाने करो मुझे पूछ सकते हैं या खुद ज्योतिष पढ़कर इस चीज का मन माला कर देंगे हम पिछले जन्म में कौन थे ज्योतिष इतना आसान नहीं है कि समझना हम गाड़ी कैसे मिली जिसकी मैं जितना ही सही रहेगी वह ज्योतिष को तीन सही सही तो संभालेगा भविष्य और भूत विदिशा के लिए ज्योतिष के माध्यम से

#धर्म और ज्योतिषी

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
1:39
आपका प्रश्न है कि आधुनिकता के बढ़ते दौर में वृद्धाश्रम की संख्या क्यों बढ़ रही है तो इसलिए बढ़ जाएगी हमारे बच्चों में नैतिकता और संस्कार जो है वह मिल नहीं पा रहा है यह कहां से मिलता है हमारे दादा दादी मैक्सिमम ही संस्कार भरते हैं और आजकल दादा दादी को ही लोग ठुकरा दे रहे हैं अपने मां को अपने पिता को ठुकरा दे रहे हैं तो फिर संस्कार कहां से बच्चों पड़ेगा संस्कार बच्चों में संस्कार ली से पड़ता है आजकल लोग क्या है कि अपने बच्चों को इतना प्रेम दे रहे हैं प्यार दे रहे हैं कि उनको यह लग रहा कि हमारे मतलब कि हमारे बच्चे से बड़ा कोई बचा ही नहीं है परिवार का ही है कि वह जैसे कोई हटा दिया बाहर से आकर या कोई चाचा और चाची हो चाहे कोई बाबा किसी का और बच्चे को डांट दिया तो फिर आजकल की दो पत्नियां हैं वह बहुत तो एक तरह से जांच की जाती है कि वह क्यों काटा गया छोटा है तो यह है तो वह है अभी छोटा है ऐसी खबर किन का मन बना दिया जा रहा है बच्चों का तो बच्चों को ऐसे करो मेरा मन बड़ा देंगे कभी छोटा है क्यों डांट रहे हैं कोई दूसरे को बोलने दे देंगे गलत काम करेंगे तो और यह सब एक दूसरे से कंपटीशन की समालोचना दो या तीन भाई हैं तो सब अपने बच्चों को लेकर बहुत ज्यादा गंभीरता दिखाते हैं कि मेरे बच्चे मेरे बच्चे उसको प्यार जाना ज्यादा देने की कोशिश करते हैं ज्यादा पैसा खर्च करते हैं उनके ऊपर दूल्हा देते हैं ठीक है तो फिर इनका कारक बिगड़ेगा और होकर भी रहे तो फिर जो मां बाप पर हो तो मिलता आश्रम में ही नहीं हम तो अभी तो बुड्ढा समझाते हैं बाद में तो फिर बुला के 50 60 याद आते हो चले जाएंगे

#धर्म और ज्योतिषी

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:46
प्रश्न आपका यह कि भारतीय परिवार में महिलाओं में जिन्हें का प्रचलन क्यों बढ़ रहे हैं यहां तक कि मां बेटे दोनों ही सपने लगे हमें पढ़ना चाहिए जो पसंद आए वह पानी है पर अपने संस्कारों नहीं छोड़ना चाहिए हमारे देश में महिलाओं का इज्जत होता है और महिलाएं संस्कार से रहते भी हैं तो उनको अधिकार है कि वह जिन से पाने या जो भी कपड़े पढ़ने का मन है वह कौन है जिंदगी बताओ यह सब खत्म करना पड़ेगा ठीक है मुझे तेरे से पुरुष के कपड़े पढ़ने के लिए उनको बात देनी है वैसे ही महिलाएं भी कपड़े पढ़ने के लिए बातें नहीं होनी चाहिए आज टीवी टावर में नहीं पड़ना चाहिए कि नहीं मैंने सिर्फ साड़ी पहनी ऐसा क्यों महिला भी अपनी सुविधानुसार कुछ बन सकते हैं सिर्फ संस्कार को ध्यान रखते हुए चाहे मर जाऊं क्या पुरुषों

#धर्म और ज्योतिषी

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:33
आपने पूछा कि सूर्य देव और चंद्र देव भगवान में क्या रिश्ता है तो मैं बता दूं आपको को क्या रिश्ता है सूर्य देवता जो है वह सर से पिता और शुरू से ही पृथ्वी निकली है और फिर पृथ्वी से चंद्रमा निकला है तो इस तरफ से ₹100 तो दादा हुए चंद्रदेव के

#टेक्नोलॉजी

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:38
मैं का प्रश्न है कि कपड़े खरीदने के लिए कौन सी ऑनलाइन वेबसाइट जाती है तो दीजिए कपड़े करने के लिए आप ऑनलाइन वेबसाइट बना जाएं खुद मार्केट जा कर दें अपने आसपास क्योंकि कपड़े क्या है कि ऑनलाइन में लोग ज्यादा मार्जिन रखते हैं और आप सिर्फ कलर देख कर कपड़े पहचानेंगे और ऐड कर देंगे फिर पसंद नहीं आएगा फिर वापस करेंगे इससे अच्छा कि आप अपने आसपास के अच्छे मार्केट से कपड़े खरीदेंगे ऐसे कपड़े के लिए हम जान भी ठीक है फ्लिपकार्ट भी ठीक है जान तो बड़ी कंपनियां फ्लिपकार्ट कम बड़ी कंपनी है तो कपड़े अभी वहां वहां से ले सकते हैं

#टेक्नोलॉजी

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:45
कुछ नहीं जी तुम फोटो लैपटॉप में दोनों में क्या बेहतर है तो दीजिए बेहतर तो दोनों हैं और मतलब है कि हमें कितना उसका प्रयोग करना है किस हद तक प्रयोग करना है अगर हमें अपनी पर्सनल यूज़ के लिए लेना है तो कंप्यूटर नया लेकर लैपटॉप नहीं क्योंकि वह कहीं भी बैठकर में लैपटॉप चला कर अपना काम कर लेंगे और आप किसी बड़े प्रपोज करना चाहते हैं बिजनेस परपस के लिए तो फिर कंप्यूटर जैसे आप वीडियो एडिटिंग करना चाहते हैं बड़े-बड़े वीडियोस पर तो आप कंप्यूटर ले मतलब आपको पर कोई हल्का नहीं भारी काम करना है तो कंप्यूटर असेंबल कराएं कोई बिजनेस करना है तो कंप्यूटर से मिल कर आए लेकिन खुद का काम करना है तो अब लैपटॉप ले

#टेक्नोलॉजी

bolkar speakerबाबर भारत कब आया था?
RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:39
अबे कुछ नहीं है कि बाबर भारत कब आया था 1526 इसमें में बाबर भारत आया और पहला युद्ध पानीपत की लड़ाई जो बाबर और इब्राहिम लोदी के बीच में लड़ा गया बाबा को बुलाने वाले थे इब्राहिम लोदी के चाचा और राणा सांगा दोनों ने बुलाया और हम लोधी को हराने के लिए ही रहेंगे ओदी पानीपत के प्रथम युद्ध में हार भी जा चुकी इस की सेना बाबर से मजबूती लेकिन बाबर जगह नई टेक्नोलॉजी टेक्नोलॉजी की शादी भी गया तो कल आया था और इब्राहिम लोदी हार गया आने के बाद बाबा ने राणा सांगा को भी आ रहा हूं उसके बाद भारत की सत्ता पर उसने अधिपत्य मालिया

#पढ़ाई लिखाई

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
2:59
प्रश्न यह है कि क्यों मंगलवार को ध्यान केंद्रित कर रहे हैं जबकि यूरेनस पर हीरे की बारिश हो रही है हम मंगल पर ध्यान क्यों केंद्र कर रहे हैं क्योंकि हमें प्रीति का अल्टरनेट 1 ग्रा चाहिए अगर कभी धरती नष्ट हुए वैज्ञानिक जानते हैं कि कोई भी करा जब समझ कर नहीं सकता है हो सकता है कभी मंगल पर जीवन हो और आज खत्म हो गया हो तो बेचैनी किए जाने की कोशिश कर रहे हैं कि यह कैसे हुआ हो सकता कि जैसे मंगल है वैसे ही पृथ्वी बन जाए मतलब पृथ्वी पर जीवन समाप्त हो जाए तो वहां स्टडी करने के लिए और सबसे पास का ग्रह है और वहां पर हम जा सकते हैं इंधन कम खर्चा करने पर जाने के लिए बहुत ज्यादा इंधन खर्च करना पड़ेगा वहां तो कम जा भी नहीं सकते हैं अभी हमारे पास ऐसे टेक्नोलॉजी नहीं है और देखिए सुकरात जो पृथ्वी के पान कल आती है वह काफी गर्म है वैसे मेरे पास अभी जान नहीं बने हैं या परसों अपने बने हैं कि वहां पर हम सरवाइव कर पाया मंगल पर हिट बाजार कम है तुम वहां पर हम रह सकते हैं वो बस्तियां बसा सकते हैं रानी खुश कर सकते हैं वह मेरे साथ कर सकते हैं बाकी सनी हो उसने सूची बनाओ यह ग्राम से बहुत दूर है जय बृहस्पति ओं जूपिटर हमारे पास दुख रहा है देखिए एक तो शुक्र है और एक मंगल है और हमें रिसर्च के लिए इन्हीं दोनों पर ध्यान देना है ताकि हम आने वाले भविष्य में कभी दिक्कत हो धरती पर धरती पर अगर जो भी समस्याएं हैं तुम मनुष्य को इन दोनों ग्रह पर ट्रांसफर करता है यानी यहां से लिया कर वहां पर जीवन बसा सके शुक्रवार का बारे में आपको बता दूं मुझे शुक्रवार को पृथ्वी से वेट में साइज में बिल्कुल बराबर है सूरज नजदीक होने का वहां पर गर्मी बहुत ज्यादा रहती है लेकिन एक बार सोचे सूरी जी जो 9 दिन धीरे-धीरे कम होती जा रही है तो 1 दिन ऐसा आएगा कि आपके जो धरती है वह मंगल ग्रह की तरफ ठंडी हो जाएगी और यहां पर जीवंत लगभग समाप्त हो जाएगा और ठीक है सा इनमोमेंट होगा शुक्र पर जब शुक्र पर टेंपरेचर धरती का टेंपरेचर के बराबर जाएगा क्योंकि राजस्थान के नीचे तो दिन पहले खत्म हो जाए तो खत्म होती जा रही है और जब उसके एनर्जी मसूरी किनारे थोड़ी कम होगी तो ऐसा बताओ बन जाएगा शुक्र पर जैसे धरती पर है और हो सकता है कि वहां पर जीवन संभव हो सके इसलिए हमारे वैज्ञानिक पास के ग्रह ग्रह है मंगल है चैन शुक्रिया जनाब आए वहां पर ध्यान दे रहे हैं

#पढ़ाई लिखाई

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
1:38
रचना कैसे की एक विद्यार्थी को देने के लिए आपके पास कौन सी जानकारी है विद्यार्थी जीवन एक ऐसा समय है कि बहुत इंपोर्टेंट होता है बाकी जीवन को खुशी से बिताने के लिए विद्यार्थी हैं और समय को नुकसान कर रहे हैं तभी तो आप माता पिता की छत्रछाया में जी रहे हैं आपको किसी चीज की कमी नहीं होती क्योंकि वह मां-बाप पूरा कर देते हैं और पूरा प्रयास करते हैं कि वह जब तक जिंदा है आपको सारी व्यवस्थाएं दे सारी खुशियां दें लेकिन एक बार वह समय बीत जाए और आप मेहनत नहीं किए खड़ा मैंने नहीं किया अपने जीवन को सफल नहीं बनाया तो फिर घर हम मान ले कि 30 साल तक आपने पढ़ाई की उसके बाद बाकी 50 साल और जीने होता है 140 सलमान गई है अगर आपने इट इनके 15 साल मेहनत नहीं किए मैं 15 वर्ष के बाद में बात करता हूं जब 10 वर्ष के बाद तू समझ लीजिए कि आप बाकी के 50 साल कैसे गुजर गए वह आप सोच भी नहीं सकते हैं वह बहुत कठिन समय होता है इसलिए मैं विद्यार्थियों से यही कहना चाहता हूं कि वह जितना मेहनत करना हो जितना कड़ी मेहनत करना हो वह कड़ी मेहनत करें बाकी आने वाले समय को अच्छी तरह से बचाने के लिए अब रूम में आकर के कुछ बन जाते हैं तो उनका पूरा जीवन एक सुख में हो जाता है

#पढ़ाई लिखाई

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
2:03
प्रश्न है कि किस तरह व्यवहार बच्चों की तबीयत खराब होता है लेकिन बच्चे छोटे होते हैं उनके पास समस्त होती है लेकिन वह बड़ों से विनती है वह सोचते हैं उतनी मात्रा में है लेकिन अलग तरीके से इसलिए हमें बच्चों को किसी भी चीज को समझाने के लिए उन्हीं की तरह बनना पड़ता है जब से क्योंकि इस चीज को समझते हैं बच्चों के साथ कभी रूड़की व्यवहार नहीं करना चाहिए उन पर दबाव नहीं देनी चाहिए दबाव देने से उनका मन कुंठित हो जाता है और उनके दिमाग का विकास नहीं हो पाता है जैसे बहुत ज्यादा ज्ञान बहुत से गाड़ी का जाने से हैं कि वह सोचते हैं कि हम बच्चों को बहुत तेज गति से भिन्न में रखें अनुशासन में रखें तो वह बचपन से ही डांटना मारना पीटना उनके गलत कामों पर शुरू कर देते हैं लेकिन वैसे नहीं करना है बच्चों को मारना नहीं है पीटना नहीं है उनको समझाना है कभी तुम मुझे हरा सकते हैं लेकिन वह भी दूसरे तरीके से प्यार से उनको स्वतंत्र बातों में खेलने दीजिए उनके मस्तिष्क का विकास होने देती है जितना में खुला बताऊं मैं रहेंगे को लाइन बारे में महंगे उनके मस्तिष्क का विकास होगा एक बार का बचपन में बच्चे कांटेक्ट हो जाएंगे तो फिर वह जीवन में कभी उठ नहीं पाएंगे वह हमेशा समस्याओं के दबाव में घिरे रहेंगे और समस्याओं पर हावी रहेंगे बच्चों को छोड़ दीजिए वह खुद की समस्याओं को सुलझाएं तब जाके उनके मस्तिष्क का विकास होगा और मस्तिष्क ऐसे विकास होगा तो वहां से उनका शारीरिक विकास में जुड़ा हुआ है उनको खेलने दीजिए जितना खेलना चाहते हैं उतना खेलने दीजिए इस तरफ से बच्चों को रखना चाहिए

#पढ़ाई लिखाई

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
2:12
प्रश्न आपका यह है कि पढ़ाई में कंसंट्रेशन कैसे होगी पढ़ाई में कंसंट्रेशन बढ़ानी है तो आपको डेली सुबह उठना होगा 5:00 बजे उठे सुबह दिल्ली उठने के बाद आप योग मुद्रा में ध्यान लगाएं इतना तो आप समझते होंगे कि ध्यान कैसे लगाया जाता है अगर योग की मुद्रा को देखनी है तो एक गूगल में सर्च मार लीजिए कैसे होती है उस मुद्रा में बैठे और ध्यान लगाइए दोनों आंखों को बंद कर लीजिए और अपने दोनों आंखों के बीच समझ रहे हैं जैसे आप के भाव है जो जाकर मिलती हैं वहां पर भेजें की कोशिश की थी आंख बंद करके ऐसे रोज 10 से 15 मिनट करें आपका ध्यान दे दे रे पड़ेगा और बजे सोते समय आप फालतू चीजें ना सोचे क्योंकि जैसे फालतू चीज सोचेंगे वह आपके ध्यान भटकाने काम करती हैं और जितना आप सभी चीजों से दूर रहे हैं फर्जी मतलब जो चीजें आपको डिस्टर्ब करती हैं उन से अब दूर रहे हैं तंबाकू गुटखा पान इन सब चीजों से भी अब दूर हैं यह सब चीजें में ध्यान को कम करने में उनका बहुत बड़ा हाथ है और एक बात और है कि जैसे आजकल बच्चे बहुत ज्यादा मोबाइल देख रहे हैं तो मोबाइल को अपने से दूर रखने का प्रयास करें जितना दूर रखेंगे उतना सही है क्योंकि दिन भर व्हाट्सएप पर मैसेज आते रहते हैं वह आपको डिटेल करते हैं सबसे ज्यादा डिटरमिन एलिमेंट एग्जाम मोबाइल हो गया तो मोबाइल को अपने पास नवरात्रि कॉलेज करें पढ़ाई के समय या तो मोबाइल को स्विच ऑफ कर दें और एक शांत कमरे में बैठे जहां कोई खटपट की आवाज ना हो

#सामान्य ज्ञान

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
2:46
आपका को छूने की संज्ञा के भेदों को बिल्कुल आसानी से कैसे समझा सकता है संज्ञा के पांच भेद है सिर्फ मैं नाम से ही आपको स्पष्ट करा दूंगा पहले व्यक्तिवाचक संज्ञा यानी कि यह किसी व्यक्ति या वस्तु का बोध कराती है जैसे राम एक व्यक्ति है अस्थान जैसे पटना यह क्या स्थान है गंगा एक नदी का नाम है तू जिसे इस दिस नाम से और अपने नाम लिया और पॉटक्लोर किसी स्थान या वस्तु नदी का आपके मन में स्मार्ट हो जाएगा चंद्रमा दमन में चंद्रमा आ गया सूर्य हो गया दूसरा जातिवादी मतलब जैसे नदी नदी में गंगा नदी ताप्ती नदी है सपना देखना दिए तो एक बहुत से यह नदियों का समूह हो गया क्या नदी का मतलब क्या है और कोई नदी कौन है तो किस नदी का नाम बताएंगे आप बहुत सारी नदियां आपके दिमाग में चलने लगे तो यह जातिवाद संख्या है पर वक्त लड़का मल्होत्रा की रोड इंडीज पर्वत पर्वत क्या है जातिवाद की एक जाति का बोध कराती हो जाती है साहिवाल है तो यह धरती है तीसरा द्रव्यवाचक संज्ञा दरवाजा का मतलब क्या है जितनी वस्तु बनाई जाती हैं जिसे पदार्थों का बताएं जैसे सोना चांदी तांबा लोहा तेल पानी जी दही यह सब द्रव्यवाचक संज्ञा एग्जांपल है पता है कौन सा है समूहवाचक संज्ञा समूह का बोध हो जैसे वर्ग 3 सभा समिति आयोग परिवार आर्केस्ट्रा पुलिस सेना एग्जांपल आज जो नाम लिया है उसमें बहुत सारे बाकी शामिल हैं बहुत सारे स्थान शामिल है तो समूह चेंज हो जाए फिर भाववाचक संज्ञा बहुत मतलब भावनाएं बताएं जैसे मीठा से भावनाएं क्रोध एक भावना है काली मां एक भावनाएं समझ रहे हैं तीता मीठा करवा यह संभावना है तो यह भाववाचक संज्ञा में हो जाएंगे आपको मैंने बता दिया धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:35
ऐसा कुछ नहीं है कि 8 साल पुराना मेरा मोबाइल हो गया था और इसकी स्क्रीन 25 मिनट रुक गई फिर मैंने मोबाइल को स्विच ऑफ किया और ऑन किया उसके बाद फिर वहां चलने लगी कुछ समय तो चली फोटो कैसे होता है तो मोबाइल में वायरस आ गया होता है या फिर बहुत ज्यादा रॉक डाटा होता है कि जिसको कहते हैं इसके लिए आप उसको फॉर्मेट कर दीजिए अभी सेट कर दीजिए मोबाइल को और उसमें कोई अच्छी सी टाइप कर लीजिए इससे आपका मोबाइल नंबर जैकलिन करेगा और कोई एंटीवायरस निकाल कर फिर मोबाइल आपकी अच्छी घर से चलती रहेगी

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speakerअकबर कौन था?
RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
1:59
आपने पूछा है कि अकबर कौन था तो देखिए अकबर एक मुगल शासक था उसके पिता का नाम क्या था हुमायूं के बारे में नेता को थोड़ा सा जानकारी दे रहा हूं सबसे पहली बार बाबर मुगल शासक था जो भारत पाक माकिया 15269 समय दिल्ली पर इब्राहिम लोदी का शासन था और इब्राहिम लोदी को हराकर वह दिल्ली की सत्ता पर काबिज हुआ उसका बेटा हुमायूं और माई का बेटा अकबर अकबर का जो राज्य अभिषेक है दिल्ली में वह 1556 में हुआ और उसकी मृत्यु हो गई 605 में उसका जो कब्र है वह सिकंदरा आगरा में से कपड़े तिथि अकबर एक बहुत ही महान साधक कहा गया क्योंकि वह सभी धर्मों में विश्वास रखा था वह कभी नहीं बताया कि इस्लाम धर्म बड़ा है हिंदू धर्म से सभी धर्मों में उसकी एक समानता थी इसलिए वह महान शासक हुआ और उसी की तरह एक दासी को भी इस आ सकता लेकिन उसको औरंगजेब द्वारा मार दिया अपने साम्राज्य का विस्तार कराया और जब दिल्ली पर वह उसको सत्ता मिली तो उसके बाद उसने उत्तर भारत और दक्षिण भारत की विजय को जारी रखा उत्तर भारत में मालवा मेड़ता गोंडवाना मेवाड़ कलिंजर गुजरात हल्दीघाटी कश्मीर विजय दक्षिण भारत में खानदेश अहमदनगर और असीरगढ़ का विजय उसने अपने दम पर जीता तो इतने सारे राज्यों को पहली बार कोई मुगल शासक भारत में जीतकर अपने राज्य में मिला ना दिल्ली सल्तनत में मिला एक बहुत बड़ा बहुत बड़ी बातें जाहिर के लिए उतना को कठिन समय नहीं था जितना अकबर के लिए शाबर जीवन में बहुत ही तो क्या इतना देख रहे हैं जितना मन बताया आपको फिर उसके बाद औरंगजेब औरंगजेब पत्तों की तरह से पूरी बनी बनी सत्ता मिली थी इसलिए उसने अत्याचार बहुत ज्यादा किया और हिंदुओं का किया और मुझे अपने को सबसे बेकार शासक था जिसने हमेशा हिंदुओं के साथ नाइंसाफी

#भारत की राजनीती

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:57
अब कुछ नहीं कि एक लाख में कौन सी दुकान खोलें तो देखें एक लाख में आप आराम से किराने का दुकान खोल सकते हैं कितने बजट में आपका दुकान अच्छी तरह से हो जाएगा और किराने की दुकान नहीं चाहता है कि वह एक सदाबहार बिजनेस है कि चले गए चलेगा लोकेशन ठीक-ठाक आप देख लेना और इसका दुकान पर रहना किराने की दुकान खोले ना एक ही ऑप्शन है अगर आप पढ़े लिखे उतना नहीं है मेरा पर लिखे हैं तो आप फोटो स्टेट की मशीन और कंप्यूटर लैपटॉप और आप पढ़े लिखे हैं बताते चले कि थोड़ा सा पढ़ाई वाली लाइन में तो कर सकते हैं दूसरा तीसरा बिजनेस है कि बच्चों के खिलौना दुकान कर सकते हैं इन तीनों में सबसे बेहतर है आपका किराना का दुकान कर लीजिए ठीक है उसमें अभी से कम

#स्वास्थ्य और योग

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
2:49
नहीं पूछना चाहिए कि अखिलेश यादव क्यों कोरोनावायरस वैक्सीन लेने से मना कर रहे हैं तो अखिलेश यादव जी इसलिए मना कर रहे हैं कि बीजेपी जॉइन बीजेपी की बीजेपी की है तो हम वैसे नहीं लेंगे सोच है कि हम आएंगे तो बता देंगे हम बीजेपी के नहीं लगाएंगे एनएच 12 सल वेट करना चाहते हैं कि सरकार बदल जाए और हमारी सरकार आए हम बाकी है क्योंकि उसमें लोग थोड़ा सा डरे हुए हैं क्योंकि अब लोगों का विश्वास नहीं है और कुछ दिक्कतें होंगी पहली बार बासी नहीं तो अखिलेश यादव जी के वही डर लग रहा होगा कि पता नहीं जो बनकर आ रही है वह सही है कि नहीं वह बीजेपी वाली है कुछ गड़बड़ वाली है तो हम तो इन पुणे इनको बीजेपी के पैसे लग रही है केवल सपा वालों को बीजेपी ज्वाइन लगदी कराना चाहते हो जाएंगे इसी तरह संक्रांति में लोग कुछ भी बोलते हैं राजनीति में लोग कुछ भी बोलते हैं और उल्टा सीधा बोलते हैं बीजेपी वाले ज्यादा बढ़ा में प्रदेश में विपक्ष कोई साफ करते आ रहे हैं भाई सपोर्ट में बीजेपी का एजेंट समझ लीजिए मुझे बहुत बड़ी संस्था है और पूरे देश का देश में बढ़ाने धारा 370 टाइम बढ़ाने समझ लीजिए आर एस एस का उद्देश्य चाहिए कि कश्मीर को भारत का एक अभिन्न हिस्सा बना दिया जाए हो गया है उसको भी मोदी सरकार और तुझे पाकिस्तान बहुत डरावनी जिसको जैसा मुखड़ा खौफ है और चाइना बीच में नहीं आया तो इंडिया सबके लिए ऑफ अखिलेश यादव को भी खौफ है उसी पार्टी में कॉफी ममता बनर्जी का खौफ है यह तो खौफ की बोली है अखिलेश यादव की ममता बनर्जी की सरकार मत आजा एक बार सरकार आ गई तो फिर ऐसे काम करेगी दोबारा नहीं जाएगी क्या बार-बार आती रहेगी तो यह डर है समस्त रात को

#धर्म और ज्योतिषी

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
5:00
आपका प्रश्न 11 या भाग्य वित्त ही उसकी एकता में बाधक है सही कह रहे हैं कि जो भारत की विविधता है उसकी एकता में बाधक है और उसी विविधता को एकदम मैं करने के लिए सरकार हमेशा प्रयास करती रही है र कल्चर अलग भाषा लग जाती अलग धर्म एकता कैसे होगी वह सोचने वाली बात है आप जान उधर साउथ में चले गए तमिलनाडु केरल कर्नाटक आंध्र हमारे प्रोत राज्यों से एकदम अलग है पश्चिम में गुजरात चले जाइए प्लीज तुम आना तो चलिए अब देखना कितना है बहुत ज्यादा बिकता है फिर भी हमारे संविधान ऐसा बनाया गया कि समय जैसे बीता जाए हमारे देश की एकता बढ़ती जाए बहुत कठिन काम था बहुत कठिन काम था संविधान को बनाना लेकिन भीमराव अंबेडकर जी की अगुवाई में संविधान को बनाया गया सरदार वल्लभभाई पटेल जैसे लोग थे इस बात को समझते थे कि संविधान कुछ ऐसा बनाना पड़ेगा जी सबको ही रहेगी हमारे लिए भी कुछ किया गया है सबको संतुष्ट किया गया उसमें एकता में एकता तो हो जाएगी दे दिया क्योंकि जब लैंग्वेज सही एकता मंच है जब इंडिया फर्स्ट नेसेसरी कर दिया गया है इससे पहला और आप लैंग्वेज कौन सी एक कर देंगे तो फिर एकता जाएगी कोई एक लैंग्वेज कर दिया ऐसा हिंदी सब को पढ़ लीजिए ठीक है हिंदी हमारी राजभाषा है सरकार को राष्ट्रभाषा घोषित कर दे हिंदी को तो एकता जाएगी एकता हर जगह हिंदी क्लास 1:00 से 5:00 तक पढ़ाई जा डीजे भाषा से ही एकता आती है किसी भी देश की पहचान वहां की मातृभाषा है उसी मातृभाषा के अनुसार लोगों का रहन-सहन खान-पान पहचान में आ जाता है हम अपनी मातृभाषा को क्यों खोए हैं हमारी पहचान हिंदी है हम हिंदी में बोलने पर गर्व होना चाहिए कि हम भारतीय हॉकी इंडियन खाने का गाना चाहिए डीजे एंड इंग्लिश का शब्द है लेकिन सूची हम भारतीय हैं हम कौन हैं वो लोग शरमाते हैं पर ये मंडी हम तो हिंदी में बोलना क्या गुनाह है क्या नहीं तो रीज़न होगा देखिए आप इसको राष्ट्रभाषा घोषित किया जाएगा और मुझे बीजेपी करेगी हिंदी को राष्ट्रभाषा और एक से पांच तक तो नहीं सेंड किया गया पढ़ाने के लिए तो पूरे देश में हमारे करम डिस्काउंट लक्ष्मण के बाद ही सभी हिंदी समझेगी जाने जी और इसका एक अकेला जाऊंगा कहीं एकता में भले ही बातों को थोड़ा सा लेकिन उन चीजों में बहुत उसका फायदा भी है जैसे कोर्णाक मां मारी आई हमारे देश में टिक नहीं पाई क्या कोई एक प्रकार का वायरस इतने टाइप के निमाड़ मिनट में कैसे टिक पाएगा नंबर दो से तीन बार मेंट है पूरे वर्ल्ड के इन्वायरमेंट को सपने में पानी आ जाएगा मतलब है इस छोटे से समस्या इंडिया जो है भारत एक छोटा सा विषय है हर जगह की जलवायु अपने में समाए हुए हैं ऐसा नहीं है कि आपका जैसे अमेरिका है ठंडक ठंडी ज्यादा पड़ खेत के बारे में संस्कृत से शीत कटिबंध कर सकते हैं हमें क्या को चंडीगढ़ ज्यादा पड़ती है इसलिए वहां भारत सरकार बहुत ज्यादा है और इंडिया में क्या 2 महीना 3 महीना और दोराई महीने में जवाई इंडिया का चेंज हो जाता है अभी दो मलाई में ठंडी पड़ेगी तो फिर द्वारा ही मैंने ठंड पड़ेगी ना गर्मी ज्यादा पड़ेगी मतलब सामान्य मौसम हुआ फिर गर्मी बहुत ज्यादा पड़ेगी बहुत दो मुझे बहुत ज्यादा बारिश होगी फिर दो मैं वह ठंड होगी तो ऐसे करके चलवाई मुझे परिवर्तन इंडिया का यह कोई बात समझ नहीं पायेगा और 2 महीने से ज्यादा नहीं रह पाएगा कोई वायरस एंटीवायरस कैसे साफ हो जाएगा यह समझ नहीं पाया कि वही हम इंडिया में जा रहे हैं उसकी भूलती इंडिया में आना चलो ठीक है धन्यवाद

#भारत की राजनीती

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:46
कुछ ना कुछ ऐसी थी जब सरकारी स्कूल खुले हैं तो नीचे स्कूल बंद क्यों है क्या सरकार इनके साथ भेदभाव कर रही है सरकारी स्कूल अभी नहीं खुले हैं क्लास वन से लेकर क्लास तक अभी बंद है और प्राइवेट स्कूल भी बंद है क्लास कौन से एक्टर 910 1112 खुला हुआ है लेकिन यह निर्देश के साथ खुला हुआ है कि इन बच्चों पर आप जबरदस्त जाने के लिए बच्चों की संख्या कम होनी चाहिए और अल्टरनेटर क्लास होनी चाहिए बहुत सारे नियम कानून लाने का कोई भेदभाव नहीं कर रही है सरकार नहीं चाहती कि मलिक संतान हो लेकिन आपके बच्चे सेफ रहे हैं सरकार यही चाहती है

#भारत की राजनीती

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
1:20
कुछ ना कुछ है कि कौन सी ऐसी संस्था है जो भारत में बैंकों को कंट्रोल करती है उसका नाम है रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया और यह सारे बैंकों पर अपना कंट्रोल लगती है इसके बारे में समझ लीजिए थोड़ा सा इस का हेड क्वार्टर कहां है मुंबई में मुंबई है महाराष्ट्र में आपका और इसकी स्थापना हुई थी 1 अप्रैल 1935 को लगभग 8 से 35 ईयर्स एगो सकते हैं 50 साल पहले और इसका ओनरशिप आफ इंडिया के पास है इस समय गवर्नर सबकी रामदास करेंसी इंडियन रुपीस जानते हैं इसमें कुछ समझना नहीं है और उसमें बैंक अट हो गया चार परसेंट को डिसाइड डिसाइड करते हैं जैसे इंटरेस्ट कितना होगा की ब्याज दर कितना होगा उसके बारे में सब डिसाइड करती है रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया मलहम 1935 में तो उसकी स्थापना हुई थी और इसको 9049 इसका राष्ट्रीय कर दिया गया 1949 में

#भारत की राजनीती

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH KUMAR PANDEY जी का जवाब
Director of Study Gateway+
6:58
कुछ नहीं क्या मिर्गी गवर्नमेंट मोदी जी चाइना विरोधी नीति कानून एक प्रसिद्ध कर रही है कल तक जो पाकिस्तान के मैच करते थे इस समय इंडिया निश्चित रूप से एक पॉपुलर कंट्री बन गया है पूरे वर्ल्ड में और पूरी दुनिया को यही लग रहा है कि चाइना को रोकने के लिए सिर्फ इंडिया के पास ई पावर है तुझे पापुलेशन दोनों की लवर थोड़ा बहुत अंतर है और मिलिट्री की संख्या में बराबर है भले टेक्नोलॉजी में देना आगे हो लेकिन मिलिट्री की संख्या बतावे चाइना और इंडिया उसके बाद लेकर चाइना इस समय ट्रेन में बहुत आगे निकलता जा रहे हैं लगभग डेढ़ सौ कंट्री में उसके व्यापार डर से क्या सभी कंट्री ओं में लगा उसके वस्तुओं से हो रही हैं चाइना के हर कंट्री में और सस्ती वस्तुएं और क्वालिटी वाली एबिलिटी भले ही ज्यादा दिन तक ना हो 2 साल से 3 साल चले 440 से मोबाइल की हो गई क्वालिटी अच्छी है 11 10 12 लड़के मोबाइल करते हैं तो 4 साल 5 साल लग सकते हैं आराम से चाइना कहीं ना कहीं आगे निकल रहा है अमेरिका को यही डर है कि ऐसा ना हो कि वह एक तरह से दुनिया नंबर वन घंटे बन जाए पावर के मामले में क्या पैसा होते हैं मिलिट्री हो क्योंकि जो देशभक्त करेगा वही आगे बढ़ेगा और चाइना अभी छोटी छोटी बस में बना रहा है बहुत ज्यादा मात्रा में लेकिन अभी उसका जो रक्षक के उपकरण हैं वह अमेरिका से इतने अच्छे नहीं हैं इसलिए उसकी और नहीं है और सबसे ज्यादा पैसा अमेरिका को उसी में मिलता है कि जैसे में प्रवेश करते आपको फाइटर हो गया सब एक्सीडेंट हो गया या अन्य तो बोलो जो भी सैनिकों के सारे सामान सबसे बड़ा फायदा मैं क्या को से होता है चाइना भी उसी तरफ से एक दिन हथियारों को बेचने लगे जैसे अमेरिका बेच रहे तो फिर उसको सबसे आगे आने में कोई नहीं रुकता चाइना को आगे आने से कोई रोक नहीं सकता है और दुनिया का पहला सबसे पावरफुल कंट्री होगा और चाइना डीजे अमेरिका की तरह नहीं है चाइना जो है वह एक कदम हमेशा आगे बढ़ने की कोशिश करता है जैसे आज लेबर के किले हमारा है कल दवा कर देगा कश्मीर हमारा भी पछतावा करेगा दिल्ली हमारा है ना कि यह पॉलिसी रहिए हमेशा विवाद की खबरों पर पुल होगा तो नीचे यह दुनिया के लिए खतरा है और अमेठी गोरमेंट जानते हैं कि मोदी इंडिया ही चाइना को रोक सकते हैं इंडिया मन पिक्चर में चाइना की तरह आ गया है चाइना से कंपटीशन कर इंडिया उसमें मेरी क्या सहायता करना चाहता है क्योंकि पाकिस्तान का तो अच्छा संबंध जाने से हो गया पाकिस्तान का जॉब बढ़िया संबंध है वह चाइना सही समय और अमेरिका तथा पाकिस्तान का लेकिन अब चाइना सो गया इस समय हथियारों के विकास में चाइना परेशान की मदद कर रहा है और दोनों भाग को चाहते हैं कि दवा दे दो ना तब से युद्ध करके लेकिन ऐसा होगा नहीं क्योंकि अमेरिका व निकलती भर के साथ हैं लेकिन अमेरिका चाहता है कि इंडिया में सारा हथियार हमेशा शिखर से लेकिन ऐसा पॉसिबल नहीं है इंडिया में कंट्री है जो तिहार सबसे बेस्ट होता है जिस घंटे का होता है उसी से ही अखरता है जो फाइटर सबसे बेस्ट होता है जिस कंट्री का होता है उससे करता है इस से मतलब नहीं कि अमेरिका हमारा 2 सितंबर का शो कर दे रसिया मेरे दोस्तों समरस करते हैं आपकी पॉलिसी आइए कभी एक देश की तरफ झुकाव इसका नहीं गया है क्योंकि यह हमेशा निरपेक्ष कूट का समर्थन करता है कि हम किसी गुट में नहीं है इस बारे में बात को तुम एक जो है वह चाहता है कि भारत जो है चाइना को टक्कर दे चाइना को टेक्नोलॉजी में पावर में हथियारों में सेना में हर तरह से रिकार्ड डालें इंडिया और उसी अब मजबूरी है देखिए अमेरिका की तो मजबूरी बन गई है कि वह इंडिया के साथ उसको आना ही पड़ेगा क्योंकि रसिया का झुकाव हो गया चाइना की तरफ हो गया है तो चलते हैं जो संबंध हैं समय के साथ धीरे-धीरे चेंज होते हैं इंडिया का रिश्ता जो है वह अभी भी रतिया से अच्छा बना हुआ है सीना ऐसा नहीं है की वजह से खराब है अच्छा बना हुआ है लेकिन अमेरिका की तरफ झुकाव बढ़ गया है इंडिया का नवी हथियार रसिया से खरीदना है इंडिया जाओ ज्यादा और रसिया है चाइना में देखिए पेट बहुत अच्छा है भाव से बहुत अच्छा है लाखों का व्यापार है लखनऊ के ब्लॉक करो इंडिया से बहुत ज्यादा है रसिया और चेन्नई के बीच में प्यार तू रसिया china-pakistan उत्तरी कोरिया देख रहे आप इनमें अच्छा संबंध है तो इंडिया अमेरिका को मजबूरन इंडिया के सब झुकना पड़ेगा समझ गए होंगे कि क्यों अमेरिकी कर्मन इंडिया का सपोर्ट कर रही है
URL copied to clipboard