अगर आपको राहुल गाँधी पे किताब लिखने को कहा जाए तो आपकी पहली लाइन या पैराग्राफ क्या होगा ?


By डा. इन्दु प्रकाश सिंह |शिक्षण-कार्य, कालेज शिक्षा में प्राचार्य हूँ | 2020-06-19

  Share करें     Share Answer  Share करें   


अगर आपको राहुल गांधी पर किताब लिखने को कहा जाए तो आप की पहली लाइन या पैराग्राफ क्या होगा मित्र किताब लिखने का शौक तो मुझे भी है राहुल गांधी जी के परिवार को हमारे परिवार में कई नजदीक से देखा है तो हमें क्योंकि हम सुल्तानपुर जिले से हैं और उसी की एक तहसील है अमेठी और सौभाग्य मेरा है कि मेरे पिताजी जो आयुर्वेद चिकित्सक थे आने पे किसे कहते हैं वह सबसे पहले अमेठी के निकट 12 14 किलोमीटर दूर जिस स्थान पर थे वहीं से मेरी प्राइमरी की एजुकेशन शुरू हुई तो राहुल गांधी जी पर लिखने का मौका मिले वह कैसे हैं कैसा चरित्र है किस रूप में हमारे सामने प्रस्तुत किए गए हैं उसको लेकर पहली दो लाइने में जो लिखना चाहूंगा वह यह है कि हर शख्स को दुनिया की हुकूमत नहीं मिलती हर शख्स मुकद्दर का सिकंदर नहीं होता हर शख्स को दुनिया की हुकूमत नहीं मिलती और हर शख्स मुकद्दर का सिकंदर नहीं होता हाथों की लकीरों से संवर सकता है मुकद्दर लेकिन हाथों की लकीरों में मुकद्दर नहीं होता कभी जिसके नाना इसकी नानी पर नाना नाना की भी पिता देश की राजनीति के सारथी हुआ करते थे आज उसी परिवार का उत्तराधिकारी लोगों के बीच हास्यास्पद चरित्र के रूप में स्थापित है राहुल गांधी का सबसे बड़ा दुर्भाग्य माना जाएगा अन्यथा उत्तराधिकार उन्हें विरासत में मिला है वह राजनीति का ही आता है




{{c.n}} Bolkar App
{{c.n}}
{{c.m}}


सम्बंधित सवाल

{{answers.t }}
{{answers.aa[0].n }}


ऐप में खोलें