भारत को कितना बड़ा नुकसान होगा अगर नेपाल चीन के साथ चला जाए?


By पुरुषोत्तम सोनी|साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस | 2020-06-12

  Share करें     Share Answer  Share करें   


नेपाल हमेशा से भारत का दोस्त रहा है नेपाल की सीमा भारत से जुड़ी लेकिन चीन की भी सीमा नेपाल से जुड़ी हुई चीन ने नेपाल को पहले उसकी मदद की उसको लोन दे दिया काफी पैसा उस को कर्ज दे दिया उस कर्ज में वह उसकी एहसान के नीचे दबा हुआ नहीं तो पैसे वसूली करने लगेगा उसके ऊपर आकर बन कर सकता है तो उस भाई के कारण नेपाल के की जो राजनीति है वह बहुत दूषित हो चुकी है कि देश के ऊपर किसी प्रकार का चाइनीस आक्रमण ना हो सके क्योंकि जानते हैं कि चीन से लड़ाई लड़ने के लिए उनके पास कोई अस्त्र शस्त्र नहीं क्योंकि नेपाली गरीब देश उनकी अर्थव्यवस्था इतनी मजबूत नहीं सारी कई देश मिलकर कि उसकी मदद करते हैं क्योंकि वह सारी सीमाओं का एक केंद्र बिंदु बना हुआ इसलिए वह चीन के दबाव में आकर के भारत के खिलाफत कर रहा है और भारत के कुछ क्षेत्रों को अपने नक्शे में दिखा भी दिया उसने तो अगर भारत चीन के नेपाल चीन के साथ चला जाता है तो जाहिर सी बात है कि चीन युद्ध क्षेत्र नेपाल में बनाकर के भारत स्थित किसी भी समय आक्रमण कर सकता है और यही चीन की विस्तार वादी नीति के प्रमुख बातें हैं यही जो नुकसान हमको नेपाल से हो सकता है वहीं नुकसान में पाकिस्तान से हो सकता है क्योंकि पाकिस्तान के बॉर्डर जो है वह चीन के सपोर्ट से ही सब पूरा तैयार हुआ है इसलिए पाकिस्तान भी चीन के दबाव में ही है और भारत में उससे दोस्ती दुश्मनी चल रही है इसलिए इन दोनों क्षेत्रों से हमको जो है नुकसान होने की संभावना है लेकिन भारत की सेना है बिल्कुल सतर्क है ऐसा कोई भी जल्दी होने वाला नहीं




{{c.n}} Bolkar App
{{c.n}}
{{c.m}}


सम्बंधित सवाल

{{answers.t }}
{{answers.aa[0].n }}


ऐप में खोलें